Home Motivation सफल ( success ) होने के लिए पहले अपने आप को स्वीकार...

सफल ( success ) होने के लिए पहले अपने आप को स्वीकार करें

172
0
SHARE
  आप अपने व्यक्तित्व का विकास तभी कर सकते हैं , जब आप अपने आप को पहचानने लगेंगे तथा स्वयं से प्रेम करना सीख जाएंगे । अतः आप अपने आप को पहचानिए तथा स्वयं से बेइंतिहा प्यार कीजिए ।
 ईश्वर द्वारा बनाया गया हर चीज इस संसार में बेहद महत्वपूर्ण है । हर किसी का कोई ना कोई उद्देश्य है जिस कारण वह संसार में उपस्थित है । उद्देश्य जिस दिन समाप्त हो जाएगा ईश्वर इंसान को बुला लेंगे । इसलिए आप दुनिया में अपनी उपस्थिति और अपने महत्व को समझिए।
जब भी कभी आप को यह एहसास होने लगे कि आपके भीतर व्यवहार कुशलता की कमी है तो इसका अर्थ यह नहीं है कि वास्तव में आप व्यवहार कुशल नहीं है । यह सब आपके भीतर उपजने वाली नकारात्मक सोच का भी फल हो सकता है ।
 हमेशा अपने आप पर गर्व करें तथा स्वयं को बेहतरीन समझे व विचार करें कि आप अच्छे व्यक्तित्व के मालिक हैं।
  बुराइयां ढूंढना इंसान की फितरत है । अक्सर ही हम सब अपने अंदर बुराइयां ही ढूंढते हैं। हमारा ध्यान अपनी अच्छाइयों की ओर कम जाता है, पर अपने अंदर मौजूद बुराइयों की ओर अधिक जाता है। यही वजह है कि हमारे जीवन में दुख घर बना लेती है और अनेकों समस्याओं का सामना करना पड़ता है ।
 सफलता ( success )प्राप्त करने के लिए यह आवश्यक हो जाता है कि अपने अंदर के गुणों की पहचान करें तथा दूसरों के गुणों को भी देखने की आदत डालें । इससे आपको बहुत कुछ वह सब सीखने को मिलेगा जो सफलता( success ) के लिए आवश्यक होता है ।
सदा ऐसा ही अभ्यास करें । ऐसा अभ्यास करने से आत्मविश्वास बढ़ता है।
  अपने आप में उपस्थित गौरव को ईमानदारी से स्वीकार करना चाहिए तथा बारीकी से आत्म चिंतन कर न्याय संगत निर्णय लेना चाहिए।
  आपका सदा खुश रहना आपके सकारात्मक सोच पर निर्भर करता है । आप जो भी कर्म करेंगे ठीक करेंगे ऐसी सकारात्मक सोच रखिए। नकारात्मक सोच की वजह से मनुष्य को दुख ही दुख मिलता है। अतः स्वयं पर गर्व कीजिए ।
 हमेशा यह विचार रखिए कि आप इस दुनिया में अनमोल और महत्वपूर्ण हो।
SHARE
Previous articleडायबिटीज का तेजपत्ता ( Bay Leaves ) है बेहतरीन इलाज ,और भी कई बीमारियों में है लाभप्रद
Next articleआइए जानते हैं सपने (dream) में गाड़ी चलाने का मतलब
मेरा नाम "संजय कुमार मौर्य है" और मैं देवरिया यूपी का रहने वाला हूं । मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर, लेखक, कवि और कथाकार हूं । मैं हिंदी साहित्य में रुचि रखता हूं और हमेशा कविताओं और कहानियों का सृजन करता रहता हूं। इसके अलावा भी हमारे पास बहुत सारी चीजों की जानकारियां है जिसे मैं इस ब्लॉग के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने की कोशिश करता हूं। दोस्तों हमें अपने ज्ञान को दूसरों के साथ साझा करना बहुत ही अच्छा लगता है अतः इसी उद्देश्य से हमने सन 2018 जनवरी में www.sitehindi.com को शुरू किया, जो कि आज एक सफल ब्लॉक वेबसाइट बन चुका है और निरंतर वेब की दुनिया में उचाईयों की ओर बढ़ रहा है । इसके अलावा मेरा उद्देश्य अपने राष्ट्रभाषा हिंदी की सेवा करना है और इसे जन-जन तक पहुंचाना भी है । अगर मैं अपने इस उद्देश्य में सफल होता हूं तो मैं स्वयं को भाग्यशाली समझूंगा। आप भी हमारे इस ब्लॉग को पढ़े और हमारे इस उद्देश्य को पूरा करने में हमारी सहायता करें । धन्यवाद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here