Home health and beauty tips पुरुषों के अनियमित आदतों से शुक्राणुओं ( sperm )की संख्या में हो जाती...

पुरुषों के अनियमित आदतों से शुक्राणुओं ( sperm )की संख्या में हो जाती है कमी

0
SHARE
पुरुषों के कुछ आदतें ऐसी होती है जिससे शुक्राणुओं ( sperm ) की संख्या में कमी आ जाती है। जाने अनजाने में पुरुष कुछ ऐसी गलतियों को पाल लेता है जिससे उसके शुक्राणुओं की संख्या प्रभावित होती है । ऐसे में वह इस बात का अनुमान भी नहीं लगा पाता किंतु प्रतिदिन की इन आम आदतों से शुक्राणुओं  ( sperm )का उत्पादन कम हो जाता है।
  मर्दों के इनफर्टिलिटी की समस्या मुख्य रूप से शुक्राणुओं की कमी की वजह से होती है। दरअसल किसी भी पुरुष की फर्टिलिटी सामान्य तौर पर उसके शुक्राणुओं  ( sperm )की संख्या पर निर्भर करता है। यदि किसी पुरुष में शुक्राणुओं की संख्या कम या उसके शुक्राणुओं की गुणवत्ता खराब है तो उस व्यक्ति का वैवाहिक जीवन इससे प्रभावित होने की संभावना रहती है। पुरुषों की इनफर्टिलिटी का मुख्य वजह शुक्राणुओं की संख्या में कमी का होना हो सकता है। यदि किसी पुरुष में शुक्राणु  की उत्पादन सही संख्या में नहीं हो रहा है तो इसके कई कारण हो सकते हैं ।ड्रिंक का सेवन करना, मसल्स की वृद्धि के लिए सप्लीमेंट का सेवन करना ,अल्कोहल लेना या सही खान-पान का इंतजाम ना होना ऐसी प्रतिदिन की कुछ आदतें हैं। जिससे शुक्राणुओं ( sperm ) की संख्या में कमी हो सकती है। आइए जानते हैं इन आदतों के बारे में विस्तार से ————
 गर्म पानी से नहाना———
  जाड़े के मौसम में पुरुषों को गर्म पानी से नहाने की आदत सी बन जाती है। पर क्या आप जानते हैं कि गर्म पानी से नहाने से शुक्राणुओं की संख्या व उत्पादन पर नेगेटिव प्रभाव पड़ता है। दरअसल गर्म पानी से नहाने पर अंडकोष का तापमान बढ़ जाता है जिससे शुक्राणुओं ( sperm ) की संख्या पर नकारात्मक  प्रभाव पड़ता है । अतः जब निजी अंगों की सफाई करें तो ठंडे पानी का प्रयोग करें। इससे इस समस्या से बचाव होगा तथा साथ साथ निजी अंगों को स्वस्थ रखने में भी आसानी होगी। तो पुरुष जब भी ननाहां तो गर्म पानी का प्रयोग करने से बचें।
   सोया का अधिक सेवन———-
  वर्ष 2008 में किए गए एक शोध में पता चला कि सोया का अधिक मात्रा में सेवन करने से शुक्राणुओं  ( sperm )के गुणवत्ता और उत्पादन पर बुरा प्रभाव पड़ता है । वह लोग जो मोटापे का शिकार है यदि वे सोया का अधिक सेवन करते हैं तो इससे उनके शुक्राणुओं की संख्या पर बुरा असर पड़ सकता है।
  अधिक मात्रा में पनीर का सेवन करने से ——–
वर्ष 2014 के शोध के अनुसार यदि पनीर का सेवन किया जाए तो पुरुषों में शुक्राणुओं  ( sperm )की संख्या कम हो सकती है। खासकर वे लोग जो लोग धूम्रपान करते हैं करते हैं उनके लिए । हालांकि कम वसा वाला आहार जैसे कि दूध पीने से शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि होती है ।
 अत्यधिक मीठा पेय  पदार्थ के सेवन से———
  अधिक मीठे पेय पदार्थ का सेवन भी शुक्राणुओं ( sperm ) की संख्या को प्रभावित करता है। मीठे पेय पदार्थ शुक्राणुओं के लिए हानिकारक हो सकते हैं । इससे पुरुषों के अंदर शुक्राणुओं की संख्या कम होने लगती है । खासकर वे पुरुष जो पतले होते हैं ।
 अधिक TV देखना———
  यदि आप TV देखना बहुत अधिक पसंद करते हैं तो आपको जरा संभलने की आवश्यकता है । जर्नल में छपे  शोध पत्र में कहा गया कि जो पुरुष 20 घंटे से अधिक समय तक TV देखते हैं उनके शुक्राणुओं ( sperm ) की तुलना बाकी लोगों की तुलना में 4.4% तक कम होता है । अतः इस समस्या से बचने के लिए TV देखना कम कर देना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here