अगर कब्ज की समस्या से पाना चाहते हैं निजात तो प्रतिदिन करें योगमुद्रासन, पेट से संबंधित सभी बीमारियां रहेंगी आपसे दूर 

2
231
योगमुद्रासन
अगर कब्ज की समस्या से पाना चाहते हैं निजात तो प्रतिदिन करें योगमुद्रासन , पेट से संबंधित सभी बीमारियां रहेंगी आपसे दूर 
 हमारे पेट में होने वाली गड़बड़ी से अधिकतर बीमारियां प्रारंभ होती हैं । ऐसे में यदि पेट के स्वास्थ्य पर बारीकी से ध्यान रखा जाए तो बहुत सारी बीमारियों से आसानी से बचाव हो सकता है। अपने पेट को सेहतमंद रखना है तो इसके लिए अपने खानपान पर संयम रखना चाहिए तथा रोजाना नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए। आजकल के बदले हुए परिवेश में अच्छे खान-पान के साथ-साथ व्यायाम की भी आवश्यकता होती है शरीर को सुचारु रुप से चलाने के लिए । ऐसे में योग मुद्रासन पेट के लिए बहुत ही बढ़िया आसन है। यदि नियमित रूप से योग मुद्रासन किया जाए तो पेट से संबंधित शिकायत कभी भी नहीं होती है। यह आदमी को रीढ से संबंधित सभी समस्याओं से भी बचाए रखता है। तो आइए जानते हैं योग मुद्रासन करने की विधि के बारे में ।
  योगमुद्रासन करने की विधि ————
इसे करने के लिए सर्वप्रथम अपने पैरों को सामने की ओर फैलाकर एकदम सीधा बैठ जाइए। तत्पश्चात दाहिने घुटने को मोड़कर पांव को बांई जांंघ पर इस प्रकार रखना है कि एड़ी घुटनों के मूल से सती हो । अब अपनी बांई टांग को भी घुटनों से मोड़ कर पांव को दूसरी जांघ  पर वैसे ही रखें जैसे पहले दाएं पांव को बाइ पर रखे चुके हो। अब आप अपनी आंखों को बंद कर लीजिए और गहरी सांस लीजिए, और अपने शरीर को ढीला छोड़ दीजिए। अपने दोनों हाथों को पीठ के तरफ पीछे ले जाइए व एक हाथ की कलाई को दूसरे हाथ से पकड़ लीजिए। अब सांस को आहिस्ता-आहिस्ता बाहर छोड़ते हुए आगे की ओर इस प्रकार झुके की ललाट फर्श की तरफ हो। आप शरीर को फिर से ढीला छोड़ दीजिए और सामान्य प्रकार से सांस लीजिए। जितनी देर तक सरलता से संभव हो सके उतनी देर इसी मुद्रा में बने रहें। उसके उपरांत अपने सांस को भीतर खींचते हुए पुनः पहले की अवस्था में आ जाइए । बैठने के लिए पद्मासन की मुद्रा में अपने पैरों को आपस में बदल  बदल कर यानी कि बाएं की जगह जाएं और दाएं की जगह बाएं पैर पर रखकर इसी प्रक्रिया को दोहराइए।
  इस से मिलने वाला लाभ ———
योगमुद्रासन करने से पेट के मांस पेशियों का अच्छी तरह से मसाज हो जाता है। इस कारण इससे पेट संबंधित होने वाली छोटी मोटी बीमारियों का इलाज भी हो जाता है। कब्ज व अपच की समस्या में यह  बेहद ही लाभकारी आसन है। इसे करने से रीढ़ की हड्डी को भी लाभ मिलता है।  यह रीढ़ से जुड़ी हुई नसों में लोच उत्पन्न करके उसकी कार्यप्रणाली को अधिक बेहतर व सुचारू बनाता है व स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है । तो देर किस बात की है आप भी इन फायदों को लेने के लिए शुरू कर दीजिए योगमुद्रासन और उठाइए लाभ।

2 COMMENTS

  1. Hi, the अगर कब्ज की समस्या से पाना चाहते हैं निजात तो प्रतिदिन करें योगमुद्रासन, पेट से संबंधित सभी बीमारियां रहेंगी
    आपसे दूर is very good, congratulations to sitehindi.com’ authors.

    I found a product that changed my life. You must see it: http://bit.ly/you-deserve-to-live-healthy-and-happy
    Love yourself and be happy! 🙂 Kisses!

Comments are closed.