Home health and beauty tips इन लक्षणों से पता चलता है कि हो गई है खून में...

इन लक्षणों से पता चलता है कि हो गई है खून में आयरन की कमी

0
SHARE

 

आयरन की कमी
  सामान्यतः महिलाओं में बहुत अधिक थकान रहने के पीछे का कारण हीमोग्लोबिन की कमी होता है। हीमोग्लोबिन शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है हिम व ग्लोबिन। इसमें हिम का अर्थ आयरन होता है और  ग्लोबिन एक प्रकार का प्रोटीन होता है। रक्त में आयरन की कमी हो जाए तो हीमोग्लोबिन अपना काम सही तरीके से नहीं कर पाता है तथा इसके परिणाम स्वरुप शरीर में कई तरह के लक्षण दिखाई देने लगे लगेंगे। हीमोग्लोबिन ऑक्सीजन के परिवहन का महत्वपूर्ण कार्य करने के साथ-साथ खुद को लाल रंग भी प्रदान करता है। अक्सर पुरुषों की तुलना में महिलाओं के शरीर में हीमोग्लोबिन कम होने की समस्या अधिक होती है। जिसके फलस्वरुप उनके शरीर में आने वाले बदलाव व आयरन के कमी के लक्षणों के बारे में आपको भी जानकारी रखनी चाहिए। आइए जानते हैं कि खून में आयरन की कमी हो जाने पर महिला में कौन-कौन से लक्षण दिखाई देने लगते हैं।
 (1)  घबराहट महसूस होने लगता है
 शरीर में ऑक्सीजन का प्रभाव यदि सही प्रकार से नहीं हो पाता है तो स्वास्थ्य संबंधित कई प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होने लगती है। ऐसे ही तब होता है जब खून में आयरन की कमी होने के कारण हीमोग्लोबिन का कार्य बाधित होने लगता है। ऐसी स्थिति में व्यक्ति को घबराहट महसूस होने लगती है। जिसको नजरअंदाज करने की जगह चिकित्सक से परामर्श करके आयरन की गोलियां लेनी चाहिए, ताकि जल्द से जल्द इस समस्या से  आराम मिल सके।
 (2)  सांस फूलने लगता है
 प्रतिदिन के दिनचर्या के सामान्य गतिविधियों के उपरांत यदि आपकी सांस फूलने लगती है तो यह सामान्य समस्या नहीं है। काम करते हुए अथवा सीढ़ियां चढ़ते समय आपको सांस फूलने की समस्या होती है तो इसका अर्थ है कि आपके खून में आयरन की कमी हो गई है ।
( 3 )  चेहरे पर फीकापन
डाक्टर  मरीजों की आंखों के नीचे का लाल हिस्सा इसलिए चेक करते हैं क्योंकि इससे उन्हें आपके शरीर में हीमोग्लोबिन के लेबल का पता चलता है। खून  को लाल रंग हीमोग्लोबिन से ही मिलता है। जिसके वजह से चेहरे की रंगत भी अच्छी दिखाई देती है। परंतु यदि आपका चेहरा फीका दिखाई देने लगता है तो आप अपने चेहरे का स्क्रीन बदलने से पहले चिकित्सक से संपर्क कीजिए। क्योंकि ऐसा खून में आयरन की कमी के वजह से भी हो सकता है।
 ( 4 ) थकान रहना
  सामान्यतः सभी लोग यही मानते हैं कि अधिक  काम करने की वजह से शरीर में थकान रहती है। परंतु यदि आप थोड़ा सा काम करने के बाद भी थका हुआ महसूस करने लगते हैं तो ऐसा आयरन की कमी के वजह से भी हो सकता है। अतः इसे नजरअंदाज मत कीजिए तथा चिकित्सक से संपर्क करके अपने रक्त का परीक्षण करवाइए।
 ( 5 ) पैरों को हिलाना
अपने पैरों को अक्सर हिलाते रहने की आदत अच्छी नहीं मानी जाती है। यही कारण है कि अक्सर ही हम एक दूसरे को ऐसा करने से रोकते रहते हैं। परंतु क्या आप मानेंगे की यह इशारे आयरन की कमी की ओर संकेत करते हैं । क्योंकि शोध से पता चला है कि खून में आयरन की कमी होने पर व्यक्ति का पैर पर नियंत्रण नहीं रह पाता तथा व्यक्ति अनजाने में ही पैरों को हिलाता रहता है।
 ( 6 ) सिर दर्द रहना
 बहुत से लोग अपने काम की अधिकता को तथा आराम की कमी को ही अपने सिर दर्द का कारण मानते हैं। परंतु सिर दर्द का कारण आयरन की कमी भी हो सकता है। दरअसल हमारे दिमाग को भी ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जो आयरन की कमी होने के कारण हीमोग्लोबिन द्वारा पहुंचाई नहीं जाती और फिर सिर में दर्द की शिकायत रहने लगती है।
 (7)  धड़कनों का तेज हो जाना
 हमारे शरीर के हर हिस्से को ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा की जरूरत होती है व आक्सीजन  को हमारे शरीर के हर हिस्से तक पहुंचाने का कार्य हीमोग्लोबिन करता है । परंतु यदि हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है तो आक्सीजन हमारे दिल तक पर्याप्त मात्रा में नहीं पहुंच पाती है। जिसके वजह से सांस फूलने के साथ-साथ धड़कन भी तेज हो जाती है।
(8)  पीरियड में अधिक दर्द होना
 पीरियड में अधिक दर्द होने का कारण आयरन की कमी भी हो सकता है । अतः ऐसा सोचना छोड़ दीजिए कि पीरियड में अधिक दर्द तो सामान्य बात है। पीरियड के समय रक्त का स्त्राव अधिक हो जाता है तो खून में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है। जिसके कारण दर्द भी अधिक हो सकता है। अतः ऐसे वक्त चिकित्सक की राय लेना चाहिए तथा उचित उपचार जरुर कर लेना चाहिए ।
(9)  बाल झड़ना
बहुत से लोग बाल झड़ने की समस्या को आम बात मानते हैं परंतु यह समस्या आयरन की कमी के कारण भी हो सकता है। अतः यदि आपके बाल अधिक बढ़ने लगे तो आयरन की कमी के संकेत की ओर ध्यान दीजिए तथा उचित दवा का सेवन कीजिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here