Home health and beauty tips इन हार्ट अटैक की लक्षणों को कभी न करें अनदेखा 

इन हार्ट अटैक की लक्षणों को कभी न करें अनदेखा 

0
SHARE

हार्ट अटैक की लक्षणों को कभी न करें

इन हार्ट अटैक की लक्षणों को कभी न करें अनदेखा ——–
 सामान्यता हार्ट अटैक के लक्षण लगभग महीने भर पहले ही दिखने शुरू हो जाते हैं। यह शिकायत होने पर महीने भर पहले से ही सांस लेने में तकलीफ, सीने में हल्का हल्का दर्द, फ्लो की समस्या तथा घबराहट जैसी कठिनाइयां शुरू होने लगती है। ऐसे में यदि महीने भर पहले ही हार्ड अटैक के मरीज के यह लक्षण पहचान लिया जाए तो हार्टअटैक को रोक पाने में बहुत हद तक कामयाब हुआ जा सकता है।
इन हार्ट अटैक की लक्षणों को कभी न करें अनदेखा 
आज हम इस लेख में इन्हीं लक्षणों के बारे में जानेंगे ताकि समय रहते हृदयघात होने से पहले ही समाधान निकाला जा सके तथा मरीज की जान बचाई जा सके। तो चलिए जानते हैं उन लक्षणों के बारे में जो हार्ड अटैक  के संकेत देते हैं।
इन हार्ट अटैक की लक्षणों को कभी न करें अनदेखा
  बहुत अधिक मात्रा में पसीना आना———-
  यदि किसी को बिना कोई काम किए सामान्य से बहुत अधिक पसीना आता है तो यह दिल से संबंधित समस्याओं की ओर संकेत करता है। इसका कारण यह है कि अवरुद्ध धमनियों के माध्यम से ब्लड को हृदय  तक पंप करने में बहुत अधिक प्रयास करना पड़ता है, जिससे शरीर को ज्यादा तनाव में शरीर के तापमान को नीचा बनाए रखने हेतु अधिक पसीना निकलता है। ऐसे में यदि आपको भी बिना कोई काम किए अधिक पसीना आता है व त्वचा का चिपचिपा होने का अनुभव होता है तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
  उल्टी तथा बदहजमी———
 हार्ट अटैक से पहले बदहजमी, उल्टी तथा पेट से जुड़े  अन्य समस्याएं भी देखने को मिलता है। परंतु देखा गया है कि आमतौर पर अधिकतर लोग इसे नजरअंदाज कर देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि हृदयघात की समस्या आम तौर पर बड़े लोगों में देखने को मिलती है तथा उन में आमतौर पर ज्यादा अपच की समस्या होती है। परंतु सामान्यता सीने में जलन, दर्द, उल्टी व अपच की समस्या होना हृदय घात का संकेत हो सकता है।
 सीने में दर्द  तथा बेचैनी———-
  सीने में दर्द तथा बेचैनी का होना हृदयघात की समस्या का सबसे आम संकेत है। हालांकि इस समस्या से घिरे कुछ लोगों को बिल्कुल भी सीने में दर्द का अनुभव नहीं होता यह भी सही है। सीने के मध्य दर्द, बेचैनी, दबाव, जकड़न तथा भारीपन का अनुभव होने पर फौरन डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
  चिंता होना ———–
 बहुत अधिक चिंता का लगातार रूप से होना तथा घबराहट भी  हार्ट अटैक के लक्षण हो सकते हैं। रात के समय बिस्तर पर सोने में प्रॉब्लम होना अथवा रात में चिंता या संकट के भावनाओं के वजह से अचानक उठ जाना  भी हार्टअटैक से पहले दिखने वाले संकेत होते हैं। अतः समय रहते इलाज के लिए डॉक्टर से परामर्श अवश्य ले लेना चाहिए।
  सांस लेने में तकलीफ तथा थकान———
  यदि बिना किसी वजह के ही सांस में तकलीफ तथा थकान अनुभव करते हैं तो यह आपके लिए हृदयघात से संबंधित परेशानी का सबब हो सकता है। महिलाओं में थकान तथा सांस की तकलीफ आम होती है तथा हृदयाघात होने से कई दिनों पहले ही प्रारंभ हो जाती है।
 शरीर में दर्द ———
 जलन तथा दर्द की समस्या शरीर के दूसरे हिस्सों में भी हो सकता है। इसमें कमर, गर्दन, बाहों तथा जबड़े में दर्द या भारीपन का एहसास हो सकता है। यह दर्द तो कभी-कभी शरीर के किसी हिस्से से शुरू होकर सीने तक पहुंच सकता है। अतः ऐसे लक्षणों को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए तथा संभावित हृदयाघात से पहले ही जांच कराकर सही से इलाज करवाना चाहिए।
  दिल का तेजी से धड़कना ——
 हार्ट अटैक होने से पहले अक्सर ही दिल की धड़कनें बढ़ जाती हैं। यह समस्या काफी दिनों तक हो सकता है। अगर इस प्रकार की समस्या अचानक से आ जाती है तो इस समय के दौरान व्यक्ति का हृदय बहुत ही तेजी तथा मुश्किल के साथ धड़कता है और यह हार्ट अटैक का संभावित संकेत हो सकता है। जिसकी जांच फौरन करा लेनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here