इस प्रकार बढ़ा सकते हैं अपने पार्टनर की नजरों में अपना सम्मान 

0
109
बढ़ा सकते हैं अपने पार्टनर की नजरों में अपना सम्मान
इस प्रकार बढ़ा सकते हैं अपने पार्टनर की नजरों में अपना सम्मान
 दुनिया का हर आदमी चाहता है कि उसे अपने जीवनसाथी से भरपूर आदर सम्मान मिले। ऐसे में यदि अपने जीवनसाथी से आदर सम्मान नहीं मिलता है तो रिश्ता एक बोझ के भांंति लगने लगता है। परंतु इस बोझ से हल्का होना कोई बहुत बड़ी बात नहीं है। यदि अपने रिश्ते में कुछ समझ बूझ भरा निवेश किया जाए तो जीवन साथी का आदर सम्मान प्राप्त किया जा सकता है तथा अपने रिश्ते को और मजबूती प्रदान किया जा सकता है।
 बढ़ा सकते हैं अपने पार्टनर की नजरों में अपना सम्मान
प्रगाढ. रिश्ते के लिए अति आवश्यक होता है कि एक पार्टनर अपने जीवनसाथी की अहमियत को समझें तथा उसका आदर सम्मान करें। यदि आप भी चाहते हैं कि आपका पार्टनर आपकी क्षमताओं का सम्मान करें तथा आपको अपनी जीवन में हमेशा अनमोल समझे तो इसके लिए आपको भी कुछ कदम बढ़ाने होंगे। तो इस प्रकार बढ़ा सकते हैं अपने पार्टनर की नजरों में अपना सम्मान । दरअसल आपको ऐसा करने के लिए अपने जीवनसाथी के साथ कुछ खास कोशिश करने की आवश्यकता पड़ सकती है।
इस प्रकार बढ़ा सकते हैं अपने पार्टनर की नजरों में अपना सम्मान
  अपने गुस्से पर काबू रखें ————
अपने रिश्ते पर अपने गुस्से को कभी भी हावी नहीं होने देना चाहिए। आपको यह याद रखना चाहिए कि आप जिससे प्यार करते हैं उससे कभी भी किसी प्रकार की गलती हो सकती है। क्योंकि वह भी आपके ही जैसा इंसान हैं। अतः किसी प्रकार की छोटी मोटी गलती हो जाने पर गुस्सा करना ठीक नहीं कहा जा सकता। अगर आप सच में अपने जीवनसाथी से प्यार करते हैं तो आपको उसे माफ करना चाहिए। यदि आप छोटी मोटी गलतियों के लिए गुस्सा करेंगे तो इससे आपके पार्टनर के मन में आपके प्रति आदर कम होता जाएगा। वहीं दूसरी ओर गुस्सा करना आपकी अपनी सेहत के लिए भी हानिकारक साबित हो सकता है। इसके सिवाय गुस्से के हालात में आपके मुंह से आपके पार्टनर के लिए कुछ ऐसे भी शब्द निकल सकते हैं जिसके कारण आपके रिश्ते में हमेशा के लिए कड़वाहट भर  सकता है। अतः किसी भी हालात में अपने गुस्से को नियंत्रित रखें।
  कभी भी हल निकाले दोष ना दें ————
 सामान्यतः शिकायत सुनते रहना किसी को भी अच्छा नहीं लगता है। चाहे पुरुष हो अथवा महिला हर बात पर शिकायत करते रहना किसी के लिए भी ठीक नहीं होता। ऐसी आदत वाले लोग किसी को पसंद भी नहीं आते हैं। अतः आप को दूसरों को दोष देने से पहले अपनी गलती को स्वीकार करना सीखना होगा। आपको अपने पार्टनर के साथ मिलकर अपने रिश्ते के मध्य आई समस्याओं का हल निकालने का प्रयास करना चाहिए ना कि दोष देकर समस्याओं को और भी गंभीर बनाना चाहिए।
 यदि आप आदर चाहते हैं तो आदर देना भी सीखिए ———-
यदि आप अपने जीवनसाथी तथा उससे जुड़े लोगों का आदर करते हैं तो इससे साबित होता है कि आप भी उसके आदर के योग्य है। अपने पार्टनर के प्रति दया भाव रखिए। भले ही वह आप की तुलना में कम दया भाव रखता हो। आपको यह याद रखना चाहिए कि अभिमान आपको कभी आदर  नहीं दिला सकता। जब आप अपने पार्टनर का आदर करते हैं तो आपका पार्टनर भी जरूर आपका आदर करेगा। आप अपने पार्टनर की अच्छी बातों के लिए उसकी तारीफ कर सकते हैं।
  अपने पार्टनर की जरूरत को समझें ——–
 अपने रिश्ते के बीच में कभी भी अहंकार को जगह नहीं देना चाहिए। आप कभी यह न सोचें कि आपके पार्टनर को ही केवल आपकी जरूरत है। आपको यह सोचने की भी जरूरत है कि आपको भी उसकी जरूरत है। अतः एक दूसरे की जरूरत को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए और अपने पार्टनर की भावनाओं का आदर करना चाहिए। ऐसा करने से आप अपने पार्टनर के जीवन में महत्वपूर्ण बन जाते हैं, जिसका जगह सिर्फ वह सिर्फ आप ही भर सकते हैं।
  हमेशा सहज रहे——–
  अपने जीवन साथी के साथ हमेशा सहज रहना चाहिए। आत्मविश्वासी, बुद्धिमान, विनम्र व बातचीत में निपुण जीवन साथी सभी को प्यारे लगते हैं। अतः आप अपनी ऐसी ही छवि अपने जीवनसाथी के समक्ष प्रस्तुत कर सकते हैं। ऐसी काबिलियत देखकर आपका जीवन साथी आपके प्रति बेहद सम्मान रखता है।
 नहीं  दे कभी झूठ को जगह ———-
 अपने रिश्ते में झूठ को कहीं भी स्थान नहीं देना चाहिए। हर व्यक्ति अपने पार्टनर से यही उम्मीद रखता है। आपके जीवनसाथी के सामने आपका व्यक्तित्व खुली किताब की तरह होनी चाहिए। जहां पर किसी शक  की कोई गुंजाइश ना हो। सच बोलने वाले पार्टनर सभी को भाते हैं तथा ऐसे लोग सम्मान के पात्र भी होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here