घर में गंगाजल रखते समय अवश्य बरतें ये सावधानियां अन्यथा हो सकती है अनहोनी

0
166
घर में गंगाजल रखते समय अवश्य बरतें ये सावधानियां
घर में गंगाजल रखते समय अवश्य बरतें ये सावधानियां अन्यथा हो सकती है अनहोनी
  हिंदू धर्म में गंगाजल को बेहद पवित्र माना जाता है। इसका प्रयोग पूजा पाठ हवन तथा अन्य शुभ कार्यों में अनिवार्य रूप से किया जाता है। शास्त्रों के अनुसार गंगा का उद्गम भगवान शंकर की जटाओं से हुआ है। अतः गंगाजल से नहाने तथा पूजा पाठ करने से सारे पाप कट जाते हैं और शादीयों में भी गंगाजल का उपयोग किया जाता है । वास्तु दोषों का नाश करने के लिए घरों में गंगाजल का छिड़काव किया जाता है ।माना जाता है कि सोने से पहले बिस्तर पर गंगाजल का छिड़काव करके सोने से रात में बुरे सपने नहीं आते हैं। अतः जिन लोगों के नींद में बुरे सपने आते हैं वह गंगाजल का बिस्तर पर छिड़काव करें। ऐसा करने से रात में बुरे सपने नहीं आएंगे। इस पवित्र जल के रखरखाव को लेकर कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए । आइए इसके बारे में जानते हैं।
घर में गंगाजल रखते समय अवश्य बरतें ये सावधानियां अन्यथा हो सकती है अनहोनी
  प्लास्टिक की बोतल में गंगाजल को कभी भी नहीं रखना चाहिए । Gangaajal को प्लास्टिक की बोतल में रखना अशुभ माना जाता है। कभी भी Gangaajal को रखने के लिए किसी धातु के बर्तन का प्रयोग करना चाहिए। गंगाजल को हमेशा घर में ईशान कोण में रखना चाहिए । ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है तथा घर में शांतिपूर्ण माहौल बना रहता है। घर में जिस स्थान पर गंगाजल रखा जाए वह स्थान पवित्र होना चाहिए तथा वहां के साफ-सफाई का ख्याल रखा जाना चाहिए। इसके अतिरिक्त जिस कमरे में गंगाजल रखा गया हो उस कमरे में मांस मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए ।
घर में गंगाजल रखते समय अवश्य बरतें ये सावधानियां अन्यथा हो सकती है अनहोनी
 अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ करके ही गंगाजल को स्पर्श करना चाहिए। कभी भी गंदे और झूठे हाथ से गंगाजल को नहीं छूना चाहिए। इसके साथ ही Gangaajal को कभी भी घर के किसी अंधेरे जगह पर नहीं रखना चाहिए । इससे नकारात्मक शक्तियों की उत्पत्ति होती है। अतः Gangaajal को वही रखें जहां सूर्य की रोशनी निर्बाध पहुंचती हो।
 प्रतिदिन सुबह घर में गंगाजल का छिड़काव करने से नकारात्मक शक्तियों का अंत हो जाता है तथा घर में सुख शांति बनी रहती है।