जानिए घुंघराले बाल वाले लोग कैसे होते हैं और उनका भाग्य कैसा होता है?

0
274
जानिए घुंघराले बाल वाले लोग कैसे होते हैं
जानिए घुंघराले बाल वाले लोग कैसे होते हैं और उनका भाग्य कैसा होता है?
  बाल हमारे खूबसूरती को बढ़ा कर उसमें चार चांद लगा देते हैं। बालों से हमारी सुंदरता इतनी प्रभावित होती है कि अक्सर कविताओं, गानों और शेरो शायरी में इसका वर्णन व तारीफ आ ही जाता है। कहने का तात्पर्य यह है कि बालों का हमारी खूबसूरती में अहम स्थान है। किंतु क्या आप यह जानते हैं कि बालों से हमारी सुंदरता प्रभावित होने के साथ-साथ हमारा भाग्य भी प्रभावित होता है? बालों के विशेषज्ञों के अनुसार हमारा बाल कई प्रकार के होते  है। जैसे काले बाल, सुनहरे बाल, भूरे बाल तथा मुलायम बाल। ठीक  ऐसे ही ज्योतिष शास्त्र में हमारे बालों को लेकर कई बातें कही गई हैं। परंतु आज हम चर्चा करेंगे घुंघराले बालों के विषय पर। इस लेख को पढ़ने के बाद आप घुंघराले बालों वाले लोगों के बारे में जान सकेंगे ।
जानिए घुंघराले बाल वाले लोग कैसे होते हैं
 ज्योतिष के मुताबिक जिनके बाल कान के पास आकर घुंघराले हो जाते हैं वह लोग बड़े ही भाग्यशाली होते हैं। ऐसा माना जाता है कि इन लोगों का कोई कार्य रुकता नहीं है। यह लोग जिस भी कार्य की शुरूआत करते हैं भाग इनके साथ होता है तथा सफलता हर हाल में मिलती है।
जानिए घुंघराले बाल वाले लोग कैसे होते हैं
  जिन लोगों के बाल गर्दन के समीप आकर गुच्छे  का रुप ले लेते हैं उनके बारे में ज्योतिषी विद्वानों का मानना है कि यह  उनके धनवान होने का सूचक है। ऐसा कहा जाता है कि ऐसे लोगों के पास जीवन में कभी भी पैसों की कमी नहीं रहती। इस प्रकार के लोग प्रत्येक क्षेत्र में सराहनीय कार्य करते हैं । इनकी पहचान इनके कार्य के द्वारा होती है।
जानिए घुंघराले बाल वाले लोग कैसे होते हैं
  ज्योतिषियों का यह भी मानना है कि जिन लोगों के शरीर के त्वचा के हर क्षेत्र से बाल निकलता है तो यह उनके भाग्यवृद्धि का सूचक होता है ।
ज्योतिष के मुताबिक जिन लोगों के बाल सुनहरे तथा घुंघराले होते हैं उन लोगों के घर में सदा सुख व समृद्धि बनी रहती है। घने बालों वाले व्यक्तियों को बहुत अधिक उत्साही माना जाता है। ऐसा मत है कि ऐसे लोग जिस काम का  एक बार संकल्प ले लेते हैं वे उसे पूरा करके ही चैन लेते हैं। ऐसे लोग अपने कार्य को लेकर किसी प्रकार की समझौता नहीं करते । ऐसे लोगों के लिए इनका कार्य ही सबकुछ होता है तथा यह लोग अपने कार्य को जी-जान से पूरा करते हैं।