मंदिरों मे घंटियां क्यों लगाई जाती है आप भी जानिए वैज्ञानिक व धार्मिक महत्व 

0
181
मंदिरों मे घंटियां क्यों लगाई जाती है
मंदिरों मे घंटियां क्यों लगाई जाती है आप भी जानिए वैज्ञानिक व धार्मिक महत्व ————-
 आप जब भी किसी मंदिर में प्रवेश करते होंगे तो आपको प्रवेश द्वार पर घंटी लगी हुई जरूर देखी होगी। हम सब जब मंदिर में प्रवेश करते हैं तो घंटी अवश्य बजाते हैं, परंतु  आपने शायद ही कभी यह सोचा होगा कि मंदिर में घंटी क्यों लगाई जाती है ? बहुत से लोगों का मानना है कि घंटी लगाने से भगवान जाग जाते हैं। वही बहुत से लोग अपनी अलग-अलग राय भी रखते हैं। वैसे घंटी को मंदिर में लगाने से कई धार्मिक कारण होते हैं। तो वहीं कई वैज्ञानिक कारण भी होते हैं। आज हम बताएंगे इन्हीं कारणों के बारे में तो चलिए शुरू करते हैं ।
मंदिरों मे घंटियां क्यों लगाई जाती है
 यदि घंटी बजाने के फायदे के बारे में वैज्ञानिकों की राय की बात करें तो वैज्ञानिकों का मानना है कि घंटी बजाने से वातावरण शुद्ध होता है। दरअसल घंटी बजाने से वातावरण में कंपन उत्पन्न होता है जिससे उस क्षेत्र में मौजूद सभी जीवाणु विषाणु तथा कई प्रकार के सूक्ष्म जीव समाप्त हो जाते हैं। इनके नष्ट होने की वजह से वातावरण शुद्ध बनता है। बहुत से लोगों का यह मत है कि वातावरण को शुद्ध करने के उद्देश्य से ही मंदिर में घंटियां लगाई जाती है।
मंदिरों मे घंटियां क्यों लगाई जाती है
 यह भी कहा जाता है की घंटी के मनमोहक स्वर से आदमी का मन अध्यात्म भाव की ओर आकर्षित होता है। यह भी माना जाता है कि घंटी बजाने से मनुष्य को अपने कई जन्मों के पापों से मुक्ति मिलती है। जब मंदिर में लोग पूजा कर रहे होते हैं तो उनके सामने जब घंटी बजाई जाती है तो उसके मनमोहक स्वर के कारण वहां पर उपस्थित लोगों को शांति व दैवीय शक्ति के उपस्थिति की अनुभूति होती है।
मंदिरों मे घंटियां क्यों लगाई जाती है
  मंदिरों में मुख्य द्वार पर घंटी लगाने के वैज्ञानिक कारण भी मिलते हैं । आपने अक्सर देखा होगा कि कई जगहों पर घंटी बजने की नियमित स्वर आती रहती है। जिस वातावरण में नियमित रूप से घंटी बजने की आवाज आती रहती है वहां का वातावरण पवित्र तथा शुद्ध बना रहता है । कई लोगों का यह भी मत है कि घंटी बजाने से नकारात्मक शक्तियां दूर रहती है। अतः नकारात्मक शक्तियों को दूर रखने से समृद्धि के द्वार खुलते हैं । अतः इस लिहाज से भी घंटी बजाने का फायदा बहुत अच्छा है। इन्हीं सब कारणों की वजह से हमारे मंदिरों में मुख्य द्वार पर घंटी जरूर लगाई जाती है। इससे नकारात्मक शक्तियां दूर रहती है। वातावरण पवित्र और शुद्ध रहता है तथा सुनने वालों का मन अध्यात्म भाव की ओर तथा ईश्वर की ओर उन्मुख होता है।