Home health and beauty tips कई शोधों से ज्ञात हुआ है कि बेहतर खान-पान से मर्दों में...

कई शोधों से ज्ञात हुआ है कि बेहतर खान-पान से मर्दों में शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करके उनकी फर्टिलिटी में सुधार किया जा सकता है 

0
SHARE
 
 
 
 
भला कौन पुरुष नहीं चाहता कि शुक्राणुओं से जुड़े मामलों में वह बिल्कुल सेहतमंद रहें। बेहतर फर्टिलिटी सब पुरुष जाते हैं ।परंतु खानपान में हुए बदलाव तथा आधुनिक जीवन शैली के कारण फिलहाल इनफर्टिलिटी की समस्या कुछ अधिक देखने को मिल रहा है। भारत में भी ऐसे मामलों में वृद्धि हुआ है। एक रिपोर्ट की मानें तो पिछले 5 वर्षों में इनफर्टिलिटी से जुड़े समस्याओं में लगभग 20 से 30% वृद्धि हुई है। मर्दों में शुक्राणुओं की संख्या में कमी आना तथा स्पर्म की गति में कमी इनफर्टिलिटी का मुख्य कारण होता है। पुरुषों के वीर्य की क्वालिटी के पीछे का कारण हालांकि अभी तक तो स्पष्ट नहीं हो पाया है। परंतु तमाम तरह के परिणामों के उपरांत पाए गए निष्कर्ष के आधार पर ऐसा माना जाता है कि इसके लिए या तो पर्यावरण अथवा पोषण संबंधित कारक जिम्मेदार हो सकते हैं। यदि पुरुषों की इनफर्टिलिटी की बात करें तो इसके लिए उनके डाइट की अहम भूमिका होती है। कई अध्ययनों से पता चला है कि बेहतर खान-पान से पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करके उनके इनफर्टिलिटी को सुधारा जा सकता है। तो चलिए आज हम चर्चा करते हैं कि शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करने के लिए आपकी डाइट किस प्रकार की होनी चाहिए।
 
 
 
  ओमेगा 3 फैटी एसिड ——–
 ओमेगा 3  सालमन तथा अलसी के बीजों में पाया जाता है।यह  प्रजनन क्षमता को बढ़ाने तथा गर्भपात के खतरे को भी कम करने में बेहद सहायक है। इसके अलावा अधिक तैलीय मछली का सेवन करने से भी शुक्राणुओं की क्वालिटी बेहतर होती है। जिससे पुरुषों की फर्टिलिटी में सुधार होता है। यह आवश्यक वसा हारमोंस के स्वस्थ कार्य के लिए आवश्यक होता है। इस प्रकार का वसा हर किसी को आसानी से उपलब्ध नहीं हो पाता । किंतु यदि आप अपने प्रजनन क्षमता में वृद्धि करना चाहते हैं तो आपको अपने भोजन में ओमेगा-3 वाले आहार का इस्तेमाल अवश्य करना चाहिए।
  विटामिन डी ——–
 यदि आप अपने फर्टिलिटी को बढ़ाना चाहते हैं तो अपने भोजन में विटामिन डी को अवश्य सम्मिलित करें। विटामिन D पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में सहायक होता है । विटामिन डी के सेवन से प्रोजेस्ट्रोन तथा एस्ट्रोजन नामक सेक्स हार्मोन का स्तर बढ़ता है । जिसके कारण गर्भधारण की संभावना में भी बढ़ोतरी होती है । विटामिन डी अन्य  डेयरी उत्पाद मछलियां व चिकन का सेवन करने के प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा विटामिन डी सूर्य की रोशनी से भी प्राप्त होता है ।
 पानी——-
 आप किसी भी डॉक्टर के पास चले जाए वह आपको भरपूर पानी पीने की सलाह देता ही देता है। दरअसल पानी की वजह से हमारे शरीर के कई सारे अंगो की फंक्शनिंग में सहायता मिलती है। यदि आप रोजाना भरपूर पानी पीते हैं तो इससे प्रजनन अंग बेहतर तरीके से कार्य करते हैं। पुरुषों को अपने प्रजनन क्षमता में वृद्धि करने के लिए प्रतिदिन कम से कम 10 से 12 गिलास पानी का सेवन अवश्य ही करना चाहिए । पानी का पर्याप्त सेवन करने से भी फर्टिलिटी बेहतर रहता है।
  गाजर———
  गाजर पुरुषों की प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए बेहद लाभप्रद होता है। एक शोध में हावर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि गाजर में मौजूद तत्व पुरुषों की प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में सहायक है। शोध में पता चला कि गाजर में कैरोटीन नामक रसायन मौजूद होता है जो शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करने के साथ-साथ उसकी गुणवत्ता में भी सुधार लाता है। इस शोध में यह भी बताया गया है कि सभी नारंगी तथा पीले रंग की सब्जियों में यह  गुण पाया जाता है।
 दूध से बनी चीजें ———
 दूध के महत्व को तो आप सभी जानते हैं। इसके महत्व को देखते हुए ही इस को संपूर्ण आहार कहा जाता है। दूध में लगभग सभी पोषक तत्व पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं। जो हमारे शरीर के सभी प्रकार की जरूरतों को पूरा करते हैं। अतः दूध अथवा दूध से बने सभी प्रकार के उत्पादों के सेवन से प्रजनन क्षमता में वृद्धि होती है। यदि आप भी अपने प्रजनन क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं अथवा सेहतमंद रखना चाहते हैं तो अपने डाइट  में दूध, दही, बटर, पनीर को सम्मिलित कीजिए ।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here