Home dream thoughts सपने में चावल देखना sapne me chawal dekhna

सपने में चावल देखना sapne me chawal dekhna

0
SHARE

 

सपने में चावल देखना sapne me chawal dekhna

 

सपने में चावल देखना

 

 

सपने में चावल देखना sapne me chawal dekhna

 सपना इंसान के नींद के बाद की स्वाभाविक प्रक्रिया होता है। अतः सोने के बाद कभी ना कभी सपने सभी को आते हैं। दुनिया में सभी व्यक्ति जो देख सकते हैं वह सपना भी अवश्य ही देखते हैं। परंतु अगर आप सोच रहे हैं कि क्या सभी लोग सपने एक जैसे देखते हैं तो आप का उत्तर है नहीं। दुनिया में जितने भी लोग हैं वह सपने एक जैसे नहीं देखते, यानी कि सबके सपने भिन्न भिन्न प्रकार के होते हैं। अतः इस बात में कोई दो राय नहीं है कि सब के सपनों का दृश्य अलग-अलग होता है।
  सपने में चावल देखना sapne me chawal dekhna
दोस्तों हमारे सपने चाहे कैसे भी दृश्य वाले हो परंतु ज्योतिष विज्ञान के अनुसार यह हमारे जीवन में बेहद ही महत्वपूर्ण होते हैं। दरअसल स्वप्न शास्त्र के अनुसार हमारे सपने हमारे भविष्य में घटने वाली घटनाओं का संकेत देते हैं। अतः सपनों के माध्यम से आसानी से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि जातक का आने वाला समय कैसा रहेगा।
 दोस्तों आज हम बताएंगे कि सपने में चावल देखना कैसा होता है। आप में से बहुत से ऐसे लोग होंगे जो सपने में चावल देखे होंगे अथवा ऐसे सपने के बारे में जानना चाहते होंगे।
सपने में चावल देखना sapne me chawal dekhna
 तो अगर आप भी सपने में चावल देखने का फल जानना चाहते हैं तो हम बता देना चाहेंगे कि सपने में चावल देखने का मतलब होता है कि आप की जल्द ही किसी के साथ शत्रुता समाप्त होने वाली है।
 इस तरह का सपना शत्रुता समाप्त होने का संकेत माना जाता है। सो अगर आपको भी किसी के साथ शत्रुता है और आपने चावल का सपना देखा है तो समझ लें कि जल्द ही शत्रुता खत्म हो जाएगी।

सपने में चावल देखना = शत्रुता समाप्त होगी

Sapne Mein chawal dekhna Ek Aisa Sapna Hai Jise Koi Nind ki avastha mein dekh lega to Uske bare mein janne ke liye Bechain Ho Jaega, Kyunki is Sapne ka Prabhav man per Gehra padta hai .
 agar aap bhi Sapne Mein chawal dekhne ka matlab Janna Chahte Hain To Ham aapko Bata Dena Chahenge ki yah Sapna aadami ke liye sakaratmak fal pradan karta hai. Aatah aap Prasann Ho jaaiye. darasal Sapnon Ke Gyan ke anusar Aisa Mana Jata Hai Ki chawal yadi Sapne Mein dikh Jaaye to vyakti ki shatruta samapt Ho Jaati Hai, Kyunki yah Sapna shatruta samapt hone ka Sanket Lekar Aata Hai. arthat Kahane ka matlab yah Hai Ki yadi aapane yah Sapna Dekha Hai hai aur aapka Kisi Ke Sath shatruta Hai  To samajh Lijiye Ki Aane Wale Samay Mein aap Ki shatruta khatm ho jayegi .

Sapne Mein chawal dekhna = shatruta samapt Hogi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here