Home news and politics भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 

भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 

0
SHARE
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
सेना में शराब
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
जब शराब स्वास्थ्य के लिए होता है खराब तो भारतीय सेना में सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन
 शराब को लेकर सब लोग एक सुर में कहते हैं कि यह शरीर के लिए हानिकारक होता है। यहां तक कि किसी शराबी को भी बोलोगे तो वह भी कहेगा कि शराब पीना स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं होता। परंतु अधिक शराब पीने से लीवर के डैमेज होने का खतरा रहता है। सेना में शराब  पीने के नुकसान को देखते हुए ही गुजरात बिहार जैसे कुछ राज्यों में इसे प्रतिबंधित भी कर दिया गया है।
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
जब शराब स्वास्थ्य के लिए होता है खराब तो भारतीय सेना में सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन
 परंतु क्या आपने कभी यह ध्यान दिया है कि सेना के जवानों को शराब क्यों दी जाती है वह भी सबसे कम मूल्य पर? वहीं दूसरी और आप यह भी सोचते होंगे कि सेना के जवानों का दायित्व सीमा की सुरक्षा करना है तथा आतंकियों से लोहा लेना है तो फिर जवानों को शराब बिल्कुल ही नहीं देनी चाहिए। सेना में शराब देश के जवानों को तो हमेशा कठोर से कठोर जिंदगी जीने के लिए तैयार किया जाता है तथा उन्हें हमेशा अनुशासित और सतर्क रहना पड़ता है ऐसी परिस्थिति में प्रश्न खड़ा होता है कि जवानों को शराब क्यों पीने को दी जाती है? तो क्या आपको पता है कि भारतीय सेना में क्यों नहीं शराब को किया जाता है बैन?
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
 सर्वप्रथम सबसे मुख्य कारण यह है कि सेना के जवानों को बड़ा ही कठिन परिस्थितियों में अपना कामकाज करना पड़ता है। अक्सर भारतीय सेना को बहुत ही कठिन परिस्थितियों तथा ठंडे इलाकों में तैनात होकर अपना काम करना पड़ता है। इन परिस्थितियों में देश की सुरक्षा करना बड़ा ही कठिन होता है। कुल मिलाकर इन परिस्थितियों में अकेले खड़े होकर देश की हिफाजत करना आसान नहीं है। अतः ऐसे समय में शराब प्रतिकूल हालात में भी जिंदा रहने तथा शरीर को गर्म रखने में मदद करती है। यही कारण है कि जवानों के लिए सेना में शराब बैन नहीं है। बल्कि उन्हें कम दामों में मिलता है।
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
 वही देखा जाए तो जवान अपने घर परिवार से दूर जाकर अकेले सीमा पर देश की सेवा करते हैं। इस परिस्थिति में जब वे व्यस्त नहीं होते और अकेले होते हैं तब उनके पास काफी समय होता है। तब वे शराब के सहारे अपने मित्रों के साथ समय बिताते हैं।
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
 वैसे यह भी एक कारण है कि जब भारत ब्रिटिश राज्य के अंतर्गत आता था तब ब्रिटिश सेना में शराब पीने की संस्कृति पहले से ही थी। उस समय सभी अधिकारियों और जवानों के लिए शराब के सेवन की मात्रा तय होती थी। लिहाजा जब भारत आजाद हुआ तब भी यह परंपरा सेना से दूर नहीं हो पाई और भारतीय सेना में शामिल हो गई। तब से ही भारतीय सेना में शराब पीने की इस परंपरा का पालन किया जा रहा है। सेना में जब भी कोई नई भर्ती होती है तो अधिकारी जाम उठा कर उसका वेलकम करते हैं।
भारतीय सेना में शराब को क्यों नहीं की जाती है बैन 
 वैसे सेना में शराब बैन ना होने का मतलब यह नहीं है कि कोई जवान या अधिकारी ड्यूटी के दौरान भी नशे में धुत रहेगा। अधिकारियों को सीमित मात्रा में ही शराब के सेवन की इजाजत दी गई है। इसका ट्रैक रखने के लिए रजिस्टार बनाए गए हैं। ऐसे में यदि कोई अधिकारी नशे में पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाती है और अगर कुछ दुर्लभ मामले सामने आते हैं तो कोर्ट मार्शल भी किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here