Home news and politics क्या होता है परिवार आइए जानते हैं इसके बारे में

क्या होता है परिवार आइए जानते हैं इसके बारे में

0
SHARE

क्या होता है परिवार आइए जानते हैं इसके बारे में

क्या होता है परिवार

क्या होता है परिवार आइए जानते हैं इसके बारे में

परिवार एक से अधिक व्यक्तियों के समूह को मिलाकर बनता है । सामान्यतः एक परिवार में पुरुष और महिलाएं दोनों किस्म के लोग सम्मिलित होते हैं हमारे देश में परिवार का ढांचा कुछ इस प्रकार का है। यह अपने आप में एक संगठन या समूह होता है जिसमें हर व्यक्ति एक दूसरे से खून के रिश्तो की डोर में बंधा होता है । ( क्या होता है परिवार ) कोई भी व्यक्ति जब भी किसी परिवार का मेंबर होता है तो स्वाभाविक रूप से उसका अपने परिवार के प्रति समर्पण होता है । परिवार में शामिल प्रत्येक व्यक्ति अपने परिवार के प्रति उत्तरदाई और समर्पित होता है । इसके साथ साथ वह परिवार में सहभागी भी होता है । समाज का एक छोटा सा हिस्सा है परिवार , परंतु परिवार वह छोटा सा संगठन है जहां हर व्यक्ति अपने अपने दायित्वों के प्रति समर्पित है।

क्या होता है परिवार आइए जानते हैं

यूं तो परिवार पति पत्नी माता-पिता और बच्चों को मिलाकर बनता है , परंतु परिवार का स्वरूप पति और पत्नी दो लोगों से भी बन सकता है । वास्तव में परिवार समाज की एक इकाई है जिसे एक घर में निवास करने वाले एक से अधिक लोग मिलकर चलाते हैं । इस संगठन में से कोई व्यक्ति दूर भी हो जाता है तो भी मानसिक रूप से परिवार से जुड़ा रहता है। समर्पण भाव में भी कमी नहीं आती है।

क्या होता है परिवार आइए जानते हैं

परिवार का संचालन आपसी सहयोग पर टिका होता है । ( क्या होता है परिवार ) अन्य संगठनों की तरह परिवार का संचालन नहीं होता। किसी भी संगठन में आदमी सदस्यता तब तक स्वीकार करता है जब तक वह उसके हित में होता है परंतु परिवार जैसे छोटे संगठन में ऐसा नहीं है । अन्य संगठनों में तो समर्पण की कमी हो सकती है पर परिवार में समर्पण पूर्ण रूपेण होता है । परिवार में सदस्य चाहे कितना भी हानि में हो पर वह साथ नहीं छोड़ता । वह हानि लाभ प्रत्येक परिस्थिति में सहभागी बना रहता है । हालांकि संगठित तौर पर परिवार में भी बहुत सारी त्रुटियां हैं । पर यह अन्य संगठन की तुलना में कुछ कम भी नहीं है।

एक इकाई के रूप में परिवार पश्चिमी दुनिया में इतना मजबूत नहीं है जितना कि भारतीय उपमहाद्वीप में है। भारतीय उपमहाद्वीप के सभी देशों में परिवार सबसे स्वस्थ है ( क्या होता है परिवार ) । परिवार की सही-सही व्याख्या यही से की जा सकती है । पश्चिमी देशों में तो यह बिखरता हुआ देखा जा रहा है । परिवार का हर सदस्य अपने अपने जीवन में मशगूल है। दरअसल यहां पारिवारिक रिश्ता तो है पर समर्पण नहीं है । वहीं भारतीय उपमहाद्वीप में पारिवारिक रिश्ते के साथ साथ परिवार के प्रति समर्पण भी मजबूत है।

अहंकारी व्यक्ति अपने साथ-साथ दूसरों का भी अहित करता है

आदमी किसी कार्य को अकेला कर सकता है

किसानों द्वारा आत्महत्या करना देश के लिए एक गंभीर विषय है

जीवन में पढ़ाई का सदा ही महत्व रहा है और सदा ही रहेगा

भोजपुरी भाषा देश विदेश में सबसे तेजी से समृद्ध हो रही भारतीय भाषा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here