Home Blogging tips in hindi Hosting ke bare mein Jankari Chahte Hain To yahLekh pura padhe

Hosting ke bare mein Jankari Chahte Hain To yahLekh pura padhe

1
SHARE

Hosting ke bare mein Jankari ChahteHainTo yahLekhpurapadhe

Hosting ke bare mein Jankari

Hosting ke bare mein Jankari Chahte Hain To yah Lekh pura padhe

जो भी आदमी ब्लागिंग की शुरुआत करना चाहता है उसके पास बड़ी समस्या यह आती है कि वह होस्टिंग कौन सी ले और किस कंपनी से लें । यह हर नए ब्लॉगर की समस्या है । सबसे पहले तो वह महीनों यह सोचने में गुजार देता है कि कौन सी वाली होस्टिंग  उसके लिए सही रहेगी । खैर ऐसा सोचना बुरा नहीं है यदि कोई बंदा ब्लागिंग को लेकर सीरियस है तो वह सोच विचार तो करेगा ही कि उसके लिए कौन सी वाली होस्टिंग खरीदना बेहतर होगा ? ( Hosting ke bare mein Jankari ) होस्टिंग को लेकर सवाल उठना आम बात है । तो चलिए हम आपको पहले होस्टिंग के बारे में बता देते हैं । दरअसल होस्टिंग बहुत से प्रकार के होते हैं जैसे कि शेयर्ड होस्टिंग , वर्चुअल प्राइवेट सर्वर , डेडीकेटेड होस्टिंग और क्लाउड होस्टिंग । ब्लॉग या वेबसाइट बनाने के पहले हमें डोमेन के साथ होस्टिंग की आवश्यकता पड़ती है जो हम इन्हीं में से किसी एक प्लान को अपने अपने जरूरत के हिसाब से चुनते हैं। तो आइए एक एक करके इन सब के बारे में जान लेते हैं।

Hosting ke bare mein Jankari

  शेयर्ड होस्टिंग shared hosting

यह वह होस्टिंग होती है जो शेयर होती है । दरअसल इस में एक ही सर्वर होता है । परंतु इस पर एक साथ कई सारी वेबसाइट को होस्ट किया जाता है । जिस प्रकार हम अपने दोस्तों के साथ मकान मालिक के किसी कमरे को शेयर करके रहते हैं ठीक उसी प्रकार shared hosting है । ( Hosting ke bare mein Jankari ) शेयर्ड होस्टिंग में बहुत सारी वेबसाइटों को एक ही सरवर पर होस्ट किया जाता है। यहां पर अनगिनत वेबसाइटें भी हो सकती है । इसके लिए हमें कंपनी को कुछ पैसा देना पड़ता है परंतु shared hosting बहुत ही सस्ता होता है । यदि आप ब्लॉगिंग की शुरुआत कर रहे हैं तो यह अच्छा विकल्प है । बाद में जब ट्रैफिक बढ़ जाए तो आप होस्टिंग चेंज करके अच्छा प्लान ले सकते हैं ।

वर्चुअल प्राइवेट होस्टिंग virtual private hosting

मान लीजिए कि एक बहुत बड़ा मकान है और उस मकान में अनेक कमरे हैं । उनमें से एक कमरे में आप किराया देकर रहते हैं । जिस कमरे पर पूरा का पूरा आपका हक है । उसमें कोई और आपका सहभागी नहीं है । ठीक उसी प्रकार virtual private hosting होता है और यह शेयर्ड होस्टिंग से बढ़िया होता है और इसमें सिक्योरिटी भी अच्छी होती है । ब्लॉग फेमस हो जाने के बाद सभी ब्लॉगर वर्चुअल प्राइवेट स्टिंग के तरफ ही बढ़ते हैं क्योंकि यहां आवश्यकताओं को पूरा करने के साथ-साथ सिक्योर भी होता है । ( Hosting ke bare mein Jankari ) यह एक प्राइवेट सर्वर होता है जिसे आप को किसी अन्य के साथ साझा नहीं करना पड़ता । अच्छा परफारमेंस देने के साथ-साथ यह सिक्योर भी होता है । इसकी खास बात यह है कि शेयर्ड होस्टिंग की तुलना में इस पर ज्यादा ट्रैफिक हैंडल किया जा सकता है ।

डेडीकेटेड वेब होस्टिंग dedicatedwebhosting

dedicated web hosting में आपको एक पूरा सरवर मिलता है जो केवल आपका ही होता है । जैसे कि आप कोई शहर में घर खरीदते हैं जो सिर्फ और सिर्फ आपका होता है । अर्थात पूरा घर आपका है तथा घर के अंदर की सारी सामान भी आपका ही है । यानी आप एक पूरे सर्वर के मालिक हैं । ( Hosting ke bare mein Jankari ) डेडीकेटेड होस्टिंग में आपको भुगतान तो अधिक करना पड़ता है परंतु आप सर्वर के अकेले हकदार होते हैं । जिसमें वेबसाइट,  फोटो, वीडियो , फाइल्स जो भी सामग्री होंगे वह केवल आपके ही होंगे । इस होस्टिंग की खास बात यह है कि यह बहुत ज्यादा सिक्योर होने के साथ-साथ हाई परफोर्मेंस देता है तथा इस पर चाहे जितनी भी हाई ट्रैफिक हो हैंडल किया जा सकता है ।

क्लाउड होस्टिंग cloud hosting

सभी होस्टिंग में यह होस्टिंग सबसे ज्यादा भरोसेमंद होता है क्योंकि इस प्रकार की होस्टिंग में बहुत अधिक सर्वर एक साथ एक क्लाउड की तरह स्थापित होते हैं जिसका लाभ यह होता है कि आपकी वेबसाइट कभी डाउन नहीं होगी । मतलब डाउन होने के चांस ना के बराबर होते हैं । ( Hosting ke bare mein Jankari ) साथ-साथ यह बहुत ज्यादा बड़ी ट्रैफिक को सरलता से हैंडल कर लेता है।

Why you should start a blog in Hindi language

Blogging ke liye 10 popular topic ideas in Hindi

Topic blogging करने का क्या फायदा होता है आइए जान लेते हैं इस बारे में

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here