Home health and beauty tips उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के तरीके ( Ways To Control High...

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के तरीके ( Ways To Control High Blood Pressure )

0
SHARE

उच्च रक्तचाप के कारण और नियंत्रित करने के तरीके ( Ways To Control High Blood Pressure )

High Blood Pressure

उच्च रक्तचाप के कारण और नियंत्रित करने के तरीके ( Ways To Control High Blood Pressure ) :- आज कल पूरी दुनियाँ मे उच्च रक्त चाप एक गंभीर समस्या बन गयी है। उच्च रक्त चाप जिसेHypertension या सामन्य भाषा में High BP कहते है. हम आपको बता दे की हमारा दिल धमनियों में खून का संचार करता है और यह इतने फोर्स के साथ खून का संचार करता है कि खून पूरे शरीर में फ़ैल सके और इसे ही ब्लड प्रेशर कहा जाता है. इसका कम होना या ज्यादा होना शरीर के लिए हानिकारक होता है. High Blood Pressure एक ऐसी बीमारी है जिसका पता नहीं चल पता है परन्तु ये बहुत ही गंभीर होती है। पहले तो ये ज्यादातर ज्यादा उम्र के लोगो को होता था परन्तु आज कल ये बदलते माहौल की वजह से बच्चों और युवाओं में भी फैलता जा रहा है. यह रोग मुख्यतः  खाने पीने की गलत आदतों,मानसिक तनाव,और ठीक से ना सोने के कारण होता है । हम आपको ये भी बता दे इसका इलाज घर में इस्तेमाल होने बाली कुछ चीज़ो से बड़ी आसानी से कर सकते है । तो आइये जानते है, की किस तरह घर पर High Blood Pressure का इलाज करे।

High Blood Pressure को कम करने के उपाए

उच्च रक्त चाप ( High Blood Pressure )  एक ऐसी बीमारी है जो पहले मुख्य रूप से उम्र के साथ मतलब की बुढ़ापे में देखने को मिलती थी, लेकिन आज के इस लाइफ स्टाइल में जीवन की यह समस्या उम्र से पहले भी आजकल लोगो के लिए आम समस्या हो गयी है। जब रक्त चाप की समस्या किसी को होती है तब वह तुरंत डॉक्टर से सलाह लेता है। लेकिन हमारा मानना है कि आज रक्त चाप बढ़ने की समस्या आज की लाइफ स्टाइल या खानपान की वजह से होती है । तो यदि खान पान और दिनचर्या में बदलाव किए जाए तो दवा की तुलना में यह काफी फायदेमंद हो सकते है। इसीलिए आज हमने नीचे आपको बढ़ते रक्त चाप को कम करने के कुछ उपाय बताए है। यदि आप बढ़ते रक्त चाप से परेशान है तो नीचे दिए गए उपाय को जरूर अपनाए।

लहसुन

लहसुन रक्त चाप ( High Blood Pressure ) ठीक करने में बहुत मददगार घरेलू उपाय है. क्योंकि लहसुन में एलिसीन होता है, जो नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को बढ़ाता है और मांसपेशियों को आराम पहुँचाता है. इसलिए ब्लड प्रेशर के मरीज़ों को रोज़ाना खाली पेट एक लहसुन की कली निगलनी चाहिए। आप लहसुन के जूस का भी सेवन कर सकते है,ये आपके लिए बहुत लाभदायक साबित होगा।

गाजर का उपयोग करे

रोज़ाना गाजर का जूस दिन में लगभग 3 बार पीने से भी ब्लड प्रेशर सामन्य रहता है। क्योंकि गाजर इलेक्ट्रोलाइट और पौटेशियम से समृद्ध होती है, जो की शरीर में तरल पदार्थो को बनाये रखने में मदत करती है और ब्लड प्रेसर को सामन्य रखती है.

काली मिर्च

जब ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ हो तो आधा ग्लास हल्का गर्म पानी में एक चम्मच काली मिर्च पाउडर घोलकर 2-2 घंटे पर पीते रहें। इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी । यह ब्लड प्रेशर सही करने का बढिया उपचार है।

शहद

रोज़ सुबह खली पेट शहद खाने से भी ब्लड प्रेशर सामन्य रहता है। क्योंकि शहद हृदय में बढ़ते प्रेसर को कण्ट्रोल करता है और वाहिकाओं को आराम भी देता है । इसके आलावा आप शहद और तुलसी के जूस को भी खली पेट पी सकते है।

नमक कम खाये

नमक ब्लड प्रेशर बढ़ाने का एक मुख्य कारण होता है। इसलिए अगर आपका ब्लड प्रेशर high रहता है, तो आप नमक का सेवन कम करे। बढ़ते रक्त चाप को कम करने के लिए आज सबसे ज्यादा नमक को एक औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है. यह काफी फ़ायदेमंद होता है.

मॉर्निंग वॉक

मॉर्निंग में टहलना बहुत ही जरूरी होता है। इससे बहुत तरह के बीमारियों से बचा जा सकता है, जिसमे एक है रक्त चाप ( High Blood Pressure ) । सुबह नग्गे पैर घास में रोज़ाना 20-25 मिनट तक घूमने से ब्लड प्रेशर नॉर्मल रहता है और साथ हम स्वस्थ भी रहते है. यह काफी अच्छा उपाय है रक्त चाप को नियंत्रित करने के लिए.

शवासन करे

अगर आप शवासन को रेगुलर 20 मिनट तक करे तो इससे रक्त चाप नार्मल होता है. महज शवासन ही एक ऐसा आसन है. जिसे किसी भी उम्र के लोग कर सकते हैं. परन्तु इसे सावधानी से करना होगा। इसके लिए आप योग एक्सपर्ट की मदत ज़रूर लें।

मैं उम्मीद करता हुं की आपके लिए हमारी ये पोस्ट useful साबित हुई होगी । आपको हमारी High Blood Pressure को काबू करने के प्रभावशाली घरेलू उपाय कैसा लगा हमे कमेंट करके ज़रूर बतायें।

Hindi me jankari

लम्बाई कैसे बढ़ाये ( How To Increase Height Tips in Hindi )

सीताफल के फायदे हिंदी में ( sitaphal In Hindi )

बालों में डैंड्रफ की समस्या कैसे दूर करें ( Dandruff Problem In Hair )

किडनी रोग के लक्षण ( Symptoms Of Kidney Disease In Hindi )

बालों की देखभाल कैसे करे- ( Hair Care Tips In Hindi )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here