Home health and beauty tips Side Effects Of castor oil अरंडी तेल के नुकसान

Side Effects Of castor oil अरंडी तेल के नुकसान

0
SHARE

अरंडी तेल के नुकसान – Side Effects Of castor oil

 

 

Side Effects Of castor oil

 

अरंडी तेल के नुकसान – Side Effects Of castor oil :- अरंंडी प्रकृति में पाया जाने वाला एक वनस्पति पौधा है। जिसका इस्तेमाल आज आयुर्वेद में अनेक बीमारियों से निजात दिलाने के लिए फायदेमन्द माना जाता है। अरंडी की छोटी -छोटी कलियों में तेल की मात्रा मौजूद होती है। इन्ही छोटी-छोटी कलियों को दबाकर इसमे से तेल निकाला जाता है जिसे हम अरंडी तेल के नाम से जानते है। अरंडी के नाम के अलावा भी इसे अन्य नाम से भी जाना जाता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से साबुन से लेकर अन्य कई कॉस्मेटिक्स क्रीम बनाने के लिए किया जाता है। इसलिए इसका इस्तेमाल काफी पहले से बाल और त्वचा के खूबसूरती के लिए किया जाता है। इसके साथ ही आपको बता दे कि अरंडी के तेल में कई ऐसे पोषक तत्व, विटामिन मिनरल होते है जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में काफी मदद करते है। जिनके बारे में हम पहले जान ही चुके है। लेकिन यह पोषक तत्व जिस तरह से जितने फायदेमन्द होते है वही कही ना कही ये हमारे लिए कड़ी नुकशान दायक भी होते है। इसलिए आज इस लेख में हमने अरंडी तेल के नुकसान के बारे में बताया है जिनके बारे में आप नीचे पढ़ सकते है-

 

 

अरंडी तेल के नुकसान –

 

अरंडी के तेल में यूं तो कही ऐसे गुण होते है जो अनेक बीमारियों रोकने में हमारी मदद करते है। लेकिन आपको बता दे कि अरंडी का तेल जहां कुछ जगह लाभकारी होता है वही कुछ जगह ये बेहद हानिकारक भी होता है। अरंडी के बीजों में रिसिन टॉक्सिन नामक विषैला पदार्थ होता है जो हमारे शरीर के अन्दर प्रवेश करने पर हमारे लिए  हानिकारक होता है।चलिए जानते है अरंडी के तेल के कुछ दुष्परिणाम Side Effects Of castor oil ।

 

 

 

अरंडी तेल के नुकसान (Side Effect Of castor oil In Hindi)

 

 

 

  • अरंडी में प्राकृतिक लैक्सटिव का एक गुण पाया जाता है जो गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसान दायक होता है।
  • त्वचा के लाल होने पर इसका उपयोग नही करना चाहिए। अगर आप इस स्थिति में इसका उपयोग करते है तो त्वचा पर इन्फेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है।
  • अरंडी के तेल का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने पर पेट खराब होने की संभावना बन जाती है।
  • बच्चे को इससे दूर रखना चाहिये। बाकी 10 से ऊपर के उम्र के बच्चे को आप डॉक्टर की सलाह पर सेवन करा सकतें है।
  • वैसे तो अरंडी तेल कब्ज को दूर करने के लिए सबसे उपयोगी होता है। लेकिन जरूरत से ज्यादा उपयोग करने से यह पाचन तंत्र को खराब कर देता है।
  • अरंडी के तेल का ज्यादा इस्तेमाल करने से शारीरिक एलर्जी और कमज़ोरी जैसी समस्या हो जाती है। कई बार तो व्यक्ति को बेहोशी या चक्कर भी आने लगते हैं।
  • गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन नही करना चाहिए क्योकी अरंडी के तेल में एक लैक्सेटिव नामक प्राकृतिक गुण मौजूद होता है जो गर्भवती महिलाओं के लिए काफी नुकसान दायक होता है। इसका सेवन करने से गर्भवती महिलाओं को बार -बार शौचालाय जाने की समस्या पैदा हो सकती है।
  • कैस्ट्रोर आयल में कई विषैले पदार्थ मौजूद होते है इसलिए बच्चो को इसका सेवन नही करना चाहिए।
  • कुछ लोगो को यह सूट नही करता है और कई बार इस अरंडी तेल का इस्तेमाल करने से लोगो मे स्किन एलर्जी या खुजली की समस्या हो जाती है।

 

तो दोस्तों प्राकृतिक में कोई भी वनस्पति हो उसका इस्तेमाल सही ढंग से और उसके बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लेने के बाद ही करे । उम्मीद करता हूँ कि आपको आज की लेख में अरंडी तेल के बताये गए नुकसान अरंडी तेल के नुकसान – Side Effects Of castor oil के बारे जानकर अच्छा लगा होगा।

Dizziness Causes And Treatment in Hindi चक्कर आने के कारण और घरेलू इलाज

Benefits of almonds In Hindi बादाम में पाए जाने वाले पोषक तत्व और खाने के फायदे

अंतरिक्ष के रोचक तथ्य आइए जानते हैं इस बारे में

Castor oil benefits and nutrients In Hindi अरंडी तेल के फायदे और पोषक तत्व

Benefits Of Garlic In Hindi लहसुन खाने के फायदे

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here