Biography Of Indira Gandhi In Hindi इंदिरा गाँधी की जीवनी

0
7

Biography Of Indira Gandhi In Hindi इंदिरा गाँधी की जीवनी

Biography Of Indira Gandhi In Hindi

इंदिरा गाँधी की जीवनी (Biography Of Indira Gandhi In Hindi):- इंदिरा गाँधी के बारे में तो आप जानते ही होंगे, ये हमारे भारत की की चौथी और प्रथम महिला प्रधानमंत्री थीं। इन्होंने महिलाओं के लिए  बहुत लड़ाई लड़ी है । उन्होंने उस समय देश का प्रधानमंत्री (Biography Of Indira Gandhi In Hindi) के रुप में नेतृत्व किया जब महिलाओं को घर से बाहर निकलने पर पाबंदी थी और महिलाओ को घर से बाहर नहीं निकलने दिया जाता था। ये भारत के महान पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु की इकलौती संतान व बेटी थी।

आज भी इंदिरा गाँधी एक साहसी महिला थी इसलिए उनकी बहादुरी और उनके कार्य करने की जीवन शैली के चलते काफी याद किया जाता है. (Biography Of Indira Gandhi In Hindi) इंदिरा गाँधी की जीवनी किसी भी महिला व्यक्ति के लिये काफी महत्वपूर्ण है क्योकि इनके जीवन से बहुत कुछ सीखने को मिलता है । इसलिए आज हम अपने इस लेख में इंदिरा गांधी के जीवन से जुडी कुछ बातों को आपके साथ शेयर करने जा रहे है जो आपके जीवन में  उपयोगी साबित हो सकती है इसलिए इसे अंत तक पूरा ज़रूर पढ़े –

इंदिरा गाँधी की जीवनी (Biography Of Indira Gandhi In Hindi)

इंदिरा गाँधी को लौह महिला के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि ये बहुत ही होनहार काबिल और साहसी महिला थी। इनका (Biography Of Indira Gandhi In Hindi) जन्म स्वतंत्रता आंदोलन में हिस्सा लेने वाले मोतीलाल नेहरू के परिवार में हुआ था। इंदिरा गाँधी जी ने पुणे के प्रमुख विश्वविद्यालय से दसवी पास कर ली और पश्चिम बंगाल में स्थित शांतिनिकेतन इंटर कॉलेज से 12 वी की पढ़ाई पूरी की और उसके बाद आगे की पढ़ाई करने के लिए वो स्विट्ज़रलैंड और लंदन चली गयी।

जन्म 

इंदिरा गाँधी का जन्म उत्तर प्रदेश में हुआ था, उत्तर प्रदेश में स्थित इलाहाबाद में इंदिरा गाँधी जी ने जन्म लिया था। इनका जन्म 19 नवंबर 1917 को हुआ था। इंदिरा गाँधी का पूरा नाम इंदिरा  प्रियदर्शनी था। इनके (Biography Of Indira Gandhi In Hindi) पिता यानि जवाहरलाल नेहरू और इनके दादा जी यानि मोतीलाल नेहरू दोनों ही बहुत बड़े वकील थे। साथ ही इनके माता का नाम कमला बाई नेहरू था। इनके पापा और दादा जी का आज़ादी की लड़ाई में बहुत बड़ा योगदान रहा है।

इंदिरा गांधी (Biography Of Indira Gandhi In Hindi) आतंकवाद के खिलाफ बहुत ही निष्ठुर भाव रखती थी। यानि आतंकवाद का सफ़ाया करना चाहती थी। इसीलिए पंजाब से आतंकवाद का सफ़ाया करने के लिए उन्होंने अमृतसर जैसे विशाल नगर में स्थित सिखों के पवित्र स्थल ‘स्वर्ण मंदिर’ में सेना और सुरक्षा बलों की मदद से एक ऑपरेशन चलाया जिस ऑपरेशन का नाम ‘ऑपरेशन ब्लू स्टार’ रखा गया । इसके अगले महीने ही इसी आतंकवादी मानसिकता ने इंदिरा गाँधी जी की हत्या कर दी। इंदिरा गाँधी जी अपने कामों और कर्तव्यों को ध्यान में रखते हुए हमेशा आपके और हमारे दिलो में रहेगी और उन्हें उनकी साहस के कारण आज भी याद किया जाता है. इसलिए वह आज भी लोगो के बीच अमर है.

निष्कर्ष 

तो दोस्तों आज हमने इंदिरा गांधी (Biography Of Indira Gandhi In Hindi) के जीवन से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में जाना। आपको आज के हमारे इस लेख में इंदिरा गांधी के बारे में पढ़कर उनके जीवन से क्या सीखने को मिला हमे कमेंट करके ज़रूर बताये-

 Biography Of Sardar Ballabh Bhai patel In Hindi सरदार बल्लभ भाई पटेल जीवनी

व्यक्ति के अच्छे दिन वाले संकेत आइए जानते हैं इस बारे में : – 

Biography Of Subhash Chandra Bose In Hindi सुभाष चंद्र बॉस की जीवनी

पत्नी पति से छोटी क्यों होनी चाहिए आइए इस धारणा के बारे में जानते हैं

Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi पं जवाहर लाल नेहरु की जीवनी

Previous articleBiography Of Sardar Ballabh Bhai patel In Hindi सरदार बल्लभ भाई पटेल जीवनी
Next articleBiography Of Laal Bahadur Sashtri In Hindi लाल बहादुर शास्त्री जी की जीवनी
मेरा नाम "संजय कुमार मौर्य " है और मैं देवरिया ( यूपी ) का रहने वाला हूं । मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर, लेखक, कवि और कथाकार हूं । मैं हिंदी साहित्य में रुचि रखता हूं और हमेशा कविताओं और कहानियों का सृजन करता रहता हूं। इसके अलावा भी हमारे पास बहुत सारी चीजों की जानकारियां है जिसे मैं इस ब्लॉग के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने की कोशिश करता हूं। दोस्तों हमें अपने ज्ञान को दूसरों के साथ साझा करना बहुत ही अच्छा लगता है अतः इसी उद्देश्य से हमने सन 2018 जनवरी में www.sitehindi.com को शुरू किया, जो कि आज एक सफल वेबसाइट बन चुका है और निरंतर वेब की दुनिया में उचाईयों की ओर बढ़ रहा है । इसके अलावा मेरा उद्देश्य अपने राष्ट्रभाषा हिंदी की सेवा करना है और इसे जन-जन तक पहुंचाना भी है । अगर मैं अपने इस उद्देश्य में सफल होता हूं तो मैं स्वयं को भाग्यशाली समझूंगा। आप भी हमारे इस ब्लॉग को पढ़े और हमारे इस उद्देश्य को पूरा करने में हमारी सहायता करें । धन्यवाद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here