Home Biography Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi पं जवाहर लाल नेहरु की जीवनी

Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi पं जवाहर लाल नेहरु की जीवनी

0
SHARE

Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi पं जवाहर लाल नेहरु की जीवनी

Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi

पं जवाहर लाल नेहरु की जीवनी ( Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi ) :- नमस्कार दोस्तों आप सभी ने जवाहर लाल नेहरू का नाम तो सुना ही होगा । वो आज़ाद देश के पहले प्रधानमंत्री थे। इनका जन्म 14 नवंबर को हुआ था और इन्ही के जन्म दिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है क्योंकि पं जवाहर लाल नेहरु को बच्चों से बहुत प्यार था और बच्चे इन्हें चाचा नेहरू कहते थे। पं जवाहरलाल नेहरू एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे और देश की आज़ादी में पं जवाहर लाल नेहरु (Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi) ने काफी योगदान दिया। ये महात्मा गाँधी के प्रिय थे इसलिए महात्मा गांधी इन्हें अपना शिष्य मानते थे। आपको ये बात पता होनी चाहिए कि पंडित नेहरू देश की आज़ादी से पहले एक वकील और एक स्वतंत्रता सेनानी थे और देश के आज़ाद होने के बाद उन्हें प्रधानमंत्री बनाया गया। अगर आप नेहरू जी के बारे में और भी जानकारी चाहते है तो आप इस आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़े, इस आर्टिकल में पं जवाहर लाल नेहरु ने जुडी हुई सभी जानकारी दी गई है।

पं जवाहर लाल नेहरु का आरंभिक जीवन और शिक्षा 

पं जवाहर लाल नेहरु जी का जन्म 14 नवंबर 1889 को इलाहाबाद में हुआ था जो अब प्रयागराज नाम से जाना जाता है। इनके पिता का नाम पंडित मोतीलाल नेहरू था जो अपने पेशे से एक वकील थे। नेहरू जी के पिता एक कश्मीरी पंडित समुदाय के थे और इनकी माता का नाम स्वरूपरानी था। इसके पिता मोतीलाल नेहरू के तीन बच्चे थे जिनमे से पं जवाहर लाल नेहरु (Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi)  सबसे बड़े थे और बाकी दो इनकी बहने थी। बड़ी बहन का नाम विजया लक्ष्मी था जो बाद में संयुक्त राष्ट्र महासभा की पहली महिला अध्यक्ष बनी। और सबसे छोटी बहन का नाम कृष्ण हठीसिंग था जो एक लेखिका थी। पं जवाहर लाल नेहरु जी का विवाह कमला जी से हुआ था।

पं जवाहर लाल नेहरु की जीवनी (Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi)

नेहरु जी की प्रारंभिक शिक्षा तो भारत में ही हुई लेकिन 15 वर्ष की उम्र में ही उन्हें इंग्लैंड पढने भेज दिया गया और वहां उन्होंने हैरो स्कूल में अपनी पढ़ाई शुरू की और इसके बाद उन्होंने कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में अपनी बकालत की पढ़ाई करने के लिए एडमिशन लिया और सन 1912 में वहां से अपनी बकालत की पढ़ाई पूरी करने के बाद भारत वापस लौटे। जब नेहरु जी अपनी बकालत की पढ़ाई कर रहे थे तो देश में हो रही आज़ादी की लड़ाई से बहुत प्रभावित हुए और उनमें अपने देश प्रेम की भावना उत्पन्न हुई और फिर भारत आकर उन्होंने  गाँधी जी के साथ अपने देश को आज़ाद कराने के लिए स्वतंत्रता सेनानी बन गये।

पं जवाहर लाल नेहरु का राजनीति जीवन 

नेहरु जी एक महान राजनीतिक थे। नेहरु जी (Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi) ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत सन 1919 से की जब ब्रिटिश शासन द्वारा रॉयल एक्ट लाया गया और इसके बिरोध में अमृतसर के जलियांवाला बाग में एक सभा का योजना हुआ था और तभी वहां उस भीड़ पर गोलियां चलवा दी गईं थी। इस बात से नेहरु जी काफी आहत हुए और उन्होंने अपने पिता के साथ देश के आन्दोलन में कूद पड़े और यहीं से नेहरु जी के राजनीतिक जीवन की शुरुआत हुई।

सन 1920 से 1922 तक नेहरु जी व महात्मा गाँधी द्वारा चलाया जा रहा असहयोग आन्दोलन चलाया गया जिसमे नेहरु जी ने भाग किया और जेल भी गये। फिर सन 1929 में लाहौर के कांग्रेस अधिवेशन में नेहरु जी को कांग्रेस का मुख्य चुना गया और उन्होंने 26 जनवरी को रावी नदी के किनारे तिरंगे को लहराते हुए पूर्ण स्वतंत्रता पाने का ऐलान किया था और उन्होंने अपने देश की जनता को “आराम हराम है” का नारा दिया। नेहरु जी ने अपने जीवन में बहुत कठिनाईयों का सामना किया और 15 अगस्त 1947 को जब देश आज़ाद हुआ तब उनको भारत का प्रधानमंत्री बनाया गया।

मृत्यु

27 मई 1964 को 74 साल की उम्र में पं जवाहर लाल नेहरु (Biography of Jawaharlal Nehru in Hindi) की मृत्यु हो गई।

Biography of Amit Shah अमित शाह की जीवनी

महात्मा गांधी की जीवनी Biography Of Mahatma Gandhi In Hindi

Biography of Rahul gandhi in Hindi राहुल गाँधी की जीवनी

योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय Biography of UP CM Yogi Adtiyanath In Hindi

Biography of Narendra Modi प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जीवन परिचय 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here