Let’s know about Lord Shankar आइए जानते हैं भगवान शंकर के बारे में

0
7
Let’s know about Lord Shankar आइए जानते हैं भगवान शंकर के बारे में
Let's know about Lord Shankar
Let’s know about Lord Shankar आइए जानते हैं भगवान शंकर के बारे में :- भगवान शिव हिंदू सनातन धर्म के प्रमुख देवताओं में से एक हैं । जिनकी आराधना भारतीय संस्कृति में बड़ा ही श्रद्धा के साथ किया जाता है । सनातन धर्मग्रंथों में इन्हें संहार का देवता भी कहा गया है। इन्हें महेश, रूद्र , भोलेनाथ, शंकर, शिव, नीलकंठ, गंगाधर इत्यादि नामों से भी जाना जाता है । इसके अलावा भी भगवान शिव के बहुत सारे नाम है । अगर तंत्र साधना की बात की जाए तो इनको भैरव के नाम से भी जाना जाता है ।
 भगवान शंकर सनातन हिंदू धर्म के प्रमुख देवताओं में से एक हैं और इनको मनुष्य के चेतना के अंतर्यामी के रूप में भी जाना जाता है । भगवान शंकर के पत्नी का नाम पार्वती है तथा इनके दो पुत्रों का नाम कार्तिकेय और गणेश है तथा पुत्री का नाम अशोक सुंदरी है ।
 अगर भगवान शिव के स्वरूप की बात की जाए तो भगवान शिव अधिकतर चित्रों में योगी के रूप में ही देखे गए हैं । परंतु यह भारतीय संस्कृति में शिवलिंग तथा मूर्ति दोनों ही रूपों में पूजे जाते हैं । इनके हाथों में डमरू तथा त्रिशूल सुशोभित होता है तथा गले में नाग देवता विराजित होते हैं। कैलाश मानसरोवर को भगवान शंकर के वास के रूप में देखा जाता है।
हिंदू धर्म में 3 देवताओं का नाम प्रमुख है। इनमें से ब्रह्मा को सृजन कर्ता कहा जाता है विष्णु को पालनकर्ता कहा गया है और भगवान शंकर को संहार कर्ता कहा गया है । शंकर भगवान को सौम्य रूप और रुद्र दोनों के लिए जाना जाता है । प्राचीन काल में कश्यप ऋषि, शनि तथा रावण भगवान शंकर के महान भक्त हुए हैं । वैसे शिव का अर्थ कल्याणकारी होता है लेकिन भगवान शिव को लय और प्रलय दोनों को अपने अधीन रखने वाला देवता माना जाता है। शंकर भगवान सभी को समान दृष्टि से देखते हैं इसलिए इनको महादेव भी कहा जाता है ।
 तो मित्रों जान लेते हैं भगवान शिव के कुछ खास नामों के बारे में –
 महाकाल, आदिदेव, किरात, शंकर, जटाधारी, नागनाथ, मृत्युंजय, चंद्रशेखर, विषधर, महाशिव, नीलकंठ, भूतनाथ, काल भैरव, उमापति इत्यादि
Previous articleलड़के लड़कियों के शरीर से ज्यादा प्यार करते हैं या उनके दिल से
Next articleक्या तलाक के बाद भी कपल एक दूसरे को भूल जाते है ?
मेरा नाम "संजय कुमार मौर्य " है और मैं देवरिया ( यूपी ) का रहने वाला हूं । मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर, लेखक, कवि और कथाकार हूं । मैं हिंदी साहित्य में रुचि रखता हूं और हमेशा कविताओं और कहानियों का सृजन करता रहता हूं। इसके अलावा भी हमारे पास बहुत सारी चीजों की जानकारियां है जिसे मैं इस ब्लॉग के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने की कोशिश करता हूं। दोस्तों हमें अपने ज्ञान को दूसरों के साथ साझा करना बहुत ही अच्छा लगता है अतः इसी उद्देश्य से हमने सन 2018 जनवरी में www.sitehindi.com को शुरू किया, जो कि आज एक सफल वेबसाइट बन चुका है और निरंतर वेब की दुनिया में उचाईयों की ओर बढ़ रहा है । इसके अलावा मेरा उद्देश्य अपने राष्ट्रभाषा हिंदी की सेवा करना है और इसे जन-जन तक पहुंचाना भी है । अगर मैं अपने इस उद्देश्य में सफल होता हूं तो मैं स्वयं को भाग्यशाली समझूंगा। आप भी हमारे इस ब्लॉग को पढ़े और हमारे इस उद्देश्य को पूरा करने में हमारी सहायता करें । धन्यवाद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here