गरुड़ पुराण में सबसे महत्वपूर्ण संदेश क्या है आइए जानते हैं

0
90
गरुड़ पुराण में सबसे महत्वपूर्ण संदेश क्या है आइए जानते हैं
गरुड़ पुराण में सबसे महत्वपूर्ण संदेश
गरुड़ पुराण में सबसे महत्वपूर्ण संदेश क्या है आइए जानते हैं :-  हर पुराण और ग्रंथ में कुछ न कुछ खास संदेश मिलता है। जब हम पुराणों को पढ़ते हैं तो मनुष्य जीवन से संबंधित बहुत सारे संदेश मिलते हैं । इन्हें पढ़ने से हमारे ज्ञान में भी वृद्धि होती हैं साथ-साथ हमें यह सीख मिलता है कि क्या सही होता है और क्या गलत होता है ? तो यहां पर हम आप सबको गरुण पुराण का सबसे महत्वपूर्ण संदेश क्या है इस बारे में बताने जा रहे हैं। अगर आपके मन में भी इस बारे में जानने की इच्छा है तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें ।
( 1 ) गरुड़ पुराण में बताया गया है कि इस संसार में कोई किसी का नहीं होता है । इंसान जैसा कर्म करता है उसे वैसा खुद ही भोगना पड़ता है। अर्थात यहां पर कोई किसी का नहीं है आप जैसा कार्य करोगे वैसा ही भुगतोगे ।
( 2 ) गरुड़ पुराण में यह भी बताया गया है कि मरने के बाद सारी संपत्ति यहीं पर रह जाएगी। यमलोक में तो सिर्फ आपकी आत्मा और कर्म ही जाएंगे। इस दुनिया में रहकर संपत्ति का मोह नहीं करना चाहिए।
( 3 ) साथियों गरुड़ पुराण में यह भी बताया गया है कि मरने के बाद पापियों की बहुत ही दुर्गति होती है। यमदूत पापियों के साथ किसी भी प्रकार की दया नहीं करते हैं तथा मृत आत्मा को बहुत ही दुख देते हैं ।
( 4 ) यहां पर यह भी कहा गया है कि मरते समय सारे अच्छे और बुरे कर्मों का सिंहावलोकन होता है। अर्थात इंसान जो भी अच्छा और बुरा कर्म किया होता है मरते समय उसका सिंहावलोकन किया जाता है ।
( 5 ) गरुड़ पुराण में यह विस्तार से बताया गया है कि मरने के बाद जीवात्मा प्रिय जनों को याद करके भयंकर विलाप करता है। परंतु प्रिय जनों को मृतक की संपत्ति में रुचि रहती है।
 ( 6 ) गरुड़ पुराण में ऐसा कहा गया है कि यमराज के सामने हमारे कर्मों की गवाही देने के लिए श्रवण एवं श्रावणी नामक देव उपस्थित रहते हैं।
 ( 7 ) गरुड़ पुराण के अनुसार वैतरणी नदी के किनारे पहुंचने पर गोदान का महत्व पता चलता है।
  तो मित्रो यहां पर हमने आप सब को यह बताया कि गरुड़ पुराण का सबसे महत्वपूर्ण संदेश क्या है । आशा करते हैं कि यह लेख पढ़कर आपको पता चल गया होगा कि गरुड़ पुराण का सबसे महत्वपूर्ण संदेश क्या है । तो यह लेख पढ़ने के बाद मित्रों आप सब के पास भी अभी समय है अच्छे कार्य करिए दूसरों का सम्मान कीजिए अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो भयानक नर्क भोगने के लिए तैयार रहिए । क्योंकि गरुड़ पुराण के अनुसार बुरे कर्म करने वाले लोग बहुत ही दुर्दशा को प्राप्त होते हैं।