Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक

0
34
Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
Best Hindi Shayari on All Topic
जैसा कि आप सब जानते हैं कि हम अपने इस वेबसाइट पर आप सबके लिए अच्छी-अच्छी शायरी का पिटारा लेकर आते ही रहते हैं यहां पर भी हम आप सबके लिए लेकर आए हैं बेस्ट हिंदी शायरी ऑल ऑल टॉपिक्स Best Hindi Shayari on All Topic जिसे पढ़कर आपको भी अवश्य पसंद आएगा तो अगर आप भी शायरी पढ़ना बहुत ज्यादा पसंद करते हैं और हमेशा अच्छी शायरी को पढ़ते रहते हैं तो आपके लिए यह पोस्ट बेहतरीन साबित हो सकता है तो देर किस बात की है चलिए शुरू करते हैं बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक्स Best Hindi Shayari on All Topic का सिलसिला

( 1 )

मेरे सीने पर जरा हाथ रख कर देखो
दिल की धड़कने नहीं ऐ  प्यार की शहनाई है
 ( 2 ) Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
आंखों से मन की बात  होती रही प्यार से प्यार की  बात होती रही
रस्ते मिल गये हम मिले मन मिले किंतु फिर भी मुलाकात होती रही ।
( 3 )
किसी ने नजर से नजर जब मिला दी
मेरी जिंदगी झूम कर मुस्कुरा दी।
 ( 4 )
सामने बैठकर दिल को चुराए कोई
ऐसी चोरी का पता कहो कैसे लगाए कोई ।
 (5)
 लज्जा कर शर्म खा कर थोड़ा मुस्कुराकर
 दीया चुंबन मगर कुछ मुंह बना कर।
 ( 6)
 रात है बयार है और चांदनी से भरा अकाश है
 एक तू नहीं समीप इसलिए जिंदगी उदास है।
 ( 7 )
 दिल यह कहता है की निगाहों का असर देखेंगे
 हमसे वह कब तब चुराएंगे नजर देखेंगे।
 ( 8 )
 जिधर देखूं तेरी तस्वीर नजर आती है
तेरी सूरत मेरी तकदीर नजर आती है।
( 9 )
 कभी तुम पास आती हो कभी तुम दूर हो जाती हो
 दिल में बस रही हो तो फिर नजर क्यों चुराती हो।
 ( 10 )
 अपनी सूरत आपने जब आईने में देखी होगी
 तुम्हारी सूरत खुद तुझ को लुभाती होगी।
 ( 11 )
जब तुम अपने नयनों में काजल लगाती होगी
 रात दिन तेरे दीवाने को नींद न आती होगी।
 ( 12 ) Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
ओ हम से खफा है हम उनसे खफा हैं
 मगर फिर भी बात करने को जी चाहता है।
( 13 )
अजब अंदाज से कंधों पर कैसे बाल डाले हैं
मेरा दिल छीन लेने को हजारों जाल डाले हैं।
 ( 14 )
नयन बिछा है राह में आओ प्राणाधार
बुला रहा प्रियतम तुम्हें मेरा सच्चा प्यार।
( 15 )
चंदा जैसा मुखड़ा तेरा सोने जैसा रंग
दिन भी तेरे साथ है गोरी रात भी तेरे संग।
( 16 )
प्रेम पथ अति कठिन है जैसे पेड़ खजूर
चढ़ गए तो पिए प्रेम रस गिरे तो चकनाचूर।
 ( 17 )
सुना घर द्वार लगे सोनी महिवाल बिना
करो  न पल की देरी मैं व्याकुल तेरे बिना ।
( 18 )
धड़कते दिल की धड़कन को कब तक छुपाओगी
 यह सोला और भड़केगा इसे जितना  दबाओगे ।
( 19 )
 दिल के दर्पण में भी तुम आंखों में समाई हो
 हर पल धड़कन मेरी तुम्हें तुम केवल परछाई हो ।
( 20 )
नाम  जपता रहा हूं मैं हर सांस में
 प्रेम योगी बना हूं तुम्हारे लिए ।
प्राण तक भेंट अपने  चढ़ऊंगा मैं
प्राण प्यारी मैं अपनी बनाऊंगी मैं
( 21 ) Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
 जहां प्रेम का बीज   पनपता उसे सींचता जीवन जल
मदन वहां मदिरा बन जाता नयन वहां होते चंचल।
( 22 )
कई ऐसे भी आशु है जो दिल में नहीं रहते
बहुत से राज ऐसे हैं जो बतलाए नहीं जाते।
( 23 )
रात भर छेड़ता ही रहा चंद्रमा
कामनाएं जाति रही रात भर।
रात का देवता रूठता ही रहा
कल्पनाएं बनती रही रात भर।
( 24 )
राजा बसंत वर्षा ऋतु की रानी
लेकिन दोनों की कितनी भिन्न कहानी ।
राजा के मुख में हंसी कटमाला
रानी का अंतर विकल दुगो में पानी ।
( 25 )
इस बार पत्र में इतना लिख देना प्यारी
क्या तुम भी मेरी तरह उदास रहती हो ।
( 26 )
देखा था जब तुझको मैंने
चाहा था तुम को प्यार करूं
कोमल कलियों से यौवन की
अपने मन का शृंगार करूं।
 ( 27 )
प्रेम है क्या वस्तु यह कोई बता सकता नहीं है
अनिर्वचनीय सुख कोई जता सकता नहीं है ।
( 28 )
प्रेम का क्या मर्म है सो सब समझ सकते नहीं
प्रेम मिलता भी  नहीं है सब समय में सब कहीं।
 (29)
 मुझको तो होश नहीं तुमको खबर हो शायद
 लोग कहते हैं तुमने हमें बर्बाद किया।
  ( 30 ) Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
जब सुना याद किया करते हो तुम भी मुझको
क्या कहूं कुछ हद न रही मेरी हैरानी की।
 ( 31 )
चमन में बहे लाख शबनम के आंसू
 कली सिखती ही रही मुस्कुराना ।
( 32 )
तो क्या इरादा है तुम्हारा कहो मुझे खोल कर
प्यार देती नहीं धड़कनें बढ़ाती हो सिर्फ बोलकर ।
( 33 )
छोटी सी चीज में मुझे भुलाए रखती हो
समझता था नादान तुझे मगर बिल्कुल पक्की हो।
 ( 34 )
अंधेरे में जुल्फों के ये दिल खो न जाये
 जो न चाहती हो कहीं हो न जाए।
( 35 )
आंख में काजल लगाया होठों पर लगाई लाली
आज यह मेरे कत्ल का पूरा है इंतजाम है।
( 36 )
साली के बदले सलहज न हो तो ससुराल कैसी
देखते ही दिल न बहक जाय तो वह सलहज कैसी।
( 37 )
भाभी जी मुस्कुराकर आंखों की मैं पीला दो
मीठी-मीठी बातों से दिल को गुदगुदा दो ।
( 38 )
मरना जीन को आसान लगता जीना जिनको भारी
बड़े अनोखे इस दुनिया में होते हैं प्रेम पुजारी।
 ( 39 )
तिरछी नजर जिस पर भी डाली जाएगी ,
चोट कब उस से संभाली जाएगी।
बन के दीवाना फिरेगा दरबदर ,
चैन दुनिया की उस से लूट ली जाएगी।
( 40 )
लग जाये हमारी आह तुम्हें
और चाह हमारी हो जाए
जो हाल हमारे दिल का है
वह हालत तुम्हारी हो जाए।
( 41 ) Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
दिल चुपके चुपके रोता है
जब याद तुम्हारी आती है
 अब आ जाओ मेरी प्राण प्रिया
जीवन बिरहनी जलती है।
 ( 42 )
दौलत पर न कीजिए सपने में अभिमान
मीठे वचन सुनाएं विनय सब ही से कि जै ।
( 43 )
पाती आधा मिलन है पड़े मिलन की आस
तन मन को हर्षित करें बारो तन मन प्राण।
 ( 44)
 सुनो मैं तो बताता हूं मोहब्बत किस को कहते हैं
 शमा की आग में जलकर पतंगे खुश क्यों रहते हैं।
 ( 45 )
जो सच्चे प्रेमी है ओ जान की परवाह नहीं करते
इसी का नाम चाहता है मोहब्बत इसको कहते हैं ।
(  46 )
जीने की तमन्ना है न मरने का गम मुझे
लेकर किसी का नाम जिए जा रहा हूं मैं ।
( 47 )
ठंडी ठंडी चले हवाएं जिय मेरा लहराए
चुनरी मेरे सिर से उड़ती मुंह में निकलने हाय।
 ( 48 )
तुमसे मिलने की खातिर नीत मन मेरा तड़पाये
कुछ जानू भेद न मन का तुम क्यूँ नहीं आए ।
( 49 )
प्यारे को पत्तिया लिखूं जो वह होय विदेश
तन में मन में नैन में ताको कहां संदेश।
( 50 ) Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
प्यारी पाती नहीं लिखी जासे रहे कुछ दूर
नैनन मे तू नाचती पाती कौन जरूर।

( 51 )

दिल का क्या हाल कहूं सुबह को जब
उस वूत ने लेके अंगड़ाई कहा नाज से हम जाते हैं ।
( 52)
 वो एक रात गुजर भी गई मगर अब तक
विशाले यार की इज्जत से टूटता है बदन ।
( 53 )
ओ आप अपनी नजर में समाए जाते हैं
 सवारते जाते हैं और मुस्कुराए जाते हैं।
 ( 54 )
कांटे नसीब में है फूलों की चाह मत कर
ए मेरे दिल संभल जा फिर ये गुनाह मत कर।
 ( 55)
 जो कुछ दिया है उसने हंसकर कबूल कर ले
आंसू भी किमती है खुशियों की चाह मत कर।
( 56 )
सिवाय खाक के बाकी असर निशा से न थे
जमीन से दावते जो असमान से न थे।
 ( 57 )
तेरी खुशी से अगर गम में भी खुशी नहीं हुई
वो जिंदगी तो मोहब्बत की जिंदगी  न हुई ।
( 58 )
दुनिया के सितम को गले से लगा लिया
 एक एक अश्क दिल के दामन में छुपा लिया ।
( 59 )
बैठो न दूर हम से देखो खफा न हो
किस्मत से मिल गये हो मिल कर जुदा न हो
( 60  )  Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
मोहब्बत के सुहाने देन जवानी की हंसी
 रातें जुदाई में नजर आती है ये सब ख्वाब की बातें ।
( 61)
 चाल है तेरी मतवाली और आंखें हैं मय की प्याली
मैं बेहोश  हुआ पीकर उनके आगोश में जब आई साली।
( 62 )
चाल है तेरी मतवाली और आंखें हैं मय की प्याली
मैं बेहोश हुआ पीकर उनके आगोश में जब आई साली।
 ( 63)
 जब कहा मैंने की ऐ जानेमन कब मेरी हसरत निकाली जाएगी
मुस्कुराकर कह गई वो बेरहम चुप रहो सब देख भाली जाएगी।
  (64)
 प्रेमी हूं आप का कोई गैर नहीं हूं
 हंस कर के प्यार दे दो कोई गैर नहीं हूं ।
( 65 )
दिखा दिखा कर यह अपने गोल बतासा
और कितने दिन हमको दोगी दिलासा ।
( 66 )
आ कर खाऊंगा तेरे घर एक कटोरा खीर
देख तेरे  यौवन को रोके रहे न मन में धीर ।
( 67)
 जब तक दिल में प्यार है मिलेंगे हर बहाने से
तुम ही अगर मिल जाओ तो क्या लेना है जमाने से ।
( 68 )
पैसे से अगर मिल जाता है प्यार बाजार में
घर बैठे ही खरीद लेता क्यों आता तेरे पास में।
 ( 69 )
सुघड़ सुनयना सुंदरी लगती बिल्कुल
टॉप र्शरमाते अप्सरा मुस्कुराती जब।
 ( 70)
 देखते ही न दर्पण रहो प्राण तुम
प्यार का ये मुहूर्त निकल जायेगा।
 ( 71 )
सास की तो बहुत तेज रफ्तार है
और थोड़ी बहुत है मिलन की घड़ी है
( 72)
 मुझे दे दो  वे दौलत जो प्यारी पास है तेरे
ये तुम्हारे काम की नहीं काम आती है मेरे।
 ( 73 )
जिस चमन से भी तुम गुजर जाओ हम कली पर निखार आ जाये
रूठ जाओ तो रूठ जाये खुदा हंस दो तो फूल खिल जाये ।
( 74 )
Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
पहले सलाई से लगवा लिया सूरमा
पहले जरा न सोचा अब करती हो अम्मा।
( 75  )
ये दिल तुझे बचकर रहना है
 जुल्मी के तीखे नयना है।
 ( 76 )
नजरें मिलाकर बड़ी अदा से मुस्कुराती हो
चोर हो तुम मुफत में मेरा दिल चुराती हो ।
( 77 )
दिल एक मंदिर है इसकी मूरत हो तुम
प्रभु की कसम बड़ी खूबसूरत हो तुम ।
( 78 )
चलाओ न खंजर यू तिरछी नजर कि
कहीं लग न जाये ये दिल पर हमारे ।
( 79 )
सरोवर को शोभा कमल से है तरु की शोभा फूल
पत्र की शोभा उत्तर से है देना न जाना भूल ।
( 80 )
सागर में जल बहुत है गागर में न समाए
मन में बातें बहुत है मुंह से कहीं न जाए।
( 81)
स्वप्न में भी न छोड़ते  साथ वहां भी पकड़े रहते हाथ
मिलते रहते मुझ से दिन रात कराते मन की बात ।
( 82 )
तोड़ कर जग के सब संबंध बांधकर निज ममता के बंधन
करने देते कुछ भी और लगे रहते पीछे सब ओर।
 ( 83 )
दो मिटे फिर एक ही बस हो जाए
भेद सारे सब तरह के खो जाये
सभी अवयव अंग आपस में मिले
इंद्रियां मन चित मती सब एक है ।
( 84 )
 सब तरह घुलमिल बने एक है प्रिया वन मुझ में समाए आप भी एक थे
 पहले अभी भी एक हैं मन में रहे बस गुजती यह टेकर है।
( 85 )
रहता बसा तुम्हारे मन मंदिर में होता नहीं क्षणिक व्यवधान
प्रेम बीबस हूं मै तुम पर नहीं कहीं कुछ भी एहसान।
( 86 )
ये नशा है प्यार का बता उतारू कैसे
दिन तो गुजर जाता है रात गुजारु कैसे।
 ( 87 )
बढ़े निरंतर रुचि एक तुम में बढे परमान रहूं
कहीं भी कैसे भी पर इसका कभी आये अंत ।
( 88 )
नयन उधारी तनिक तो तन देखो तुम हो जीवन मूल
सेवक हो तब चरनन का करो न मोहि नेक पल दूर।
Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
( 89 )
मन में आता बने तुरंत मुख मध सारा तन अपने आप
दिव्य प्रेम इस रहू पिलाता प्रीति करके तुमसे वार्तालाप।
 ( 90 )
हमारी आंखों में आओ तो हम दिखाये तुम्हें
अदा हमारी कि तुम भी कहो की हां कुछ है ।
(  91)
 बुरा प्रेम का रोग बुरा प्रीत का काम
प्रीत बुरी है जगत में करती प्रीति बदनाम ।
( 92 )
देखे से मन ना भरे मीठे न बिन
परसे रस ना मिले आम कामिनी इक
(  93 )
ए फूलों की रानी ये फूल तुम्हारे हैं
दो फूल अगर दे दो एहसान तुम्हारा है ।
( 94 )
लाल हरी पीली मिर्च बड़ी तेज है
दुबली पतली सालियों का गुस्सा होता तेज है।
  (95 )
मीठा मीठा दर्द नशीला फैल गया नस नस में
न दिल अपने बस में न मन अपने बस में ।
( 96 )
अंगूठी हाथ में अच्छी नगीना नाक में अच्छी
लिख दो जरूर चिट्ठी अगर प्यार है सच्चा।
( 97 )
तुम तो चैन से सोते होंगे नींद तुम्हें तो आती होगी
तुमको किसी की क्या चिंता है कोई जिए चाहे मर जाए।
( 98 )
यू लगते हैं सुंदर मुखड़े पर ये दो नैना कजरारे
मंडराए जो खिले फूल पर दो भंवरे मतवारे।
 ( 99 )
कोयल जो कुके बसंत में लोग यह समझ गए
कोई भी शायद यह जाने वह दुख से कुहकाय।8
 ( 100 )
शराब जब पिलाने को हुई साली हमने प्याले एक तरफ को रख दिए
फिर गोद में लेकर के उसको पूरी बोतल पर ही लव रख दिए।
( 101)

 प्यारे दिन बहुत बीत गये भेजा नहीं संदेश
ऐसी प्रीति अब ना करूं जा से होय कलेश।
 ( 102)
 गाल गुलाबी देख तुम्हारे भंवरे धोखा खाते हैं
 खिलता हुआ गुलाब समझकर रस पीने मंडराते हैं ।
Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
( 103 )
चांदनी रात में आई बेहतर होगा
और भी वक्त थे वाहनों के लिए।
 ( 104 )
मुझसे मिलने की तो फुर्सत नहीं तुम को लेकिन
रात तुम स्वप्न में आती हो हमें सताने के लिए ।
( 105)
 दिल तोड़ना इन हसीनों को खूब आता है
नाज और अंदाज से बिजली गिराना खूब आता है
नजर का तीर भी इन को चलाना खूब आता है
( 106)
 काली कजरारी आंखें थी जुल्फें है तेरी बल खाती
सुनी इन राहों में भी तुम क्यों चलती थी शर्माती।
 ( 107 )
यौवन के  बोझ तले दबकर
तुम क्यों चलती थी इठलाती
लव तेरे जरा न हिलते थे
पर आंखें कुछ और ही कहती थी।
 ( 108 )
 भवरे फूलों को ही पसंद करते हैं औरो को नहीं
 हम तुमको पसंद करते हैं गैरों को नहीं ।
( 109 )
गर बदनाम हो गए हैं तो आप की खातिर
ताने सहे जहां में आपकी खातिर
अब जान भी दे देंगे आप की खातिर ।
( 110 )
 एक ठेस लगी कांटा सा  चुभा
कुछ दर्द हुआ आंसू टपके
बर्बाद मोहब्बत की जंग में
ऐसी ही कहानी होती है  ।
( 111 )
आंखों में लगा कर काजल
 जुल्फों में बसा  कर बादल
ये मेरे सनम तुम कहां चले
हवा में लहरा कर आंचल ।
( 112)
 पहले  तो देखते रहे सीना टटोलकर
फिर  खेल कई खेल कमरबंद खोल कर।
 ( 113 )
रूप सलोना देखा है जब से
 नींद न आई आंखों में तब से ।
( 114)
 खता क्या है मेरी जान मैंने चाहा है अगर तुमको
जमाना तुम पर मरता है जमाने भर की दिलबर हो ।
( 115 )
होठों पर मुस्कुराहट और आंखें झुकाए बैठे हैं
 तुम्ही तो हो   वे जो दिल मेरा चुराए बैठे हैं ।
 (116 )
झूठा  वादा ही सही दिल तो बहल जाता है
 वरना हम आपकी इस हा को नहीं जानते हैं क्या ।
( 117 )
करे तू इतना क्यों फैशन वरना बादल बरसेगी
 प्यार करना है तो अभी कर ले वर्ना बाद में तरसेगी ।
( 118 )
आ प्यारी नयनन बसों पलक ढकी तोहि  लेव
 न मै देखूं और को ना तो ही देखन देव।
 ( 119 )
कजरा गजरा महक रहा है आलिंगन को तरस रहे हैं
आज प्रिय के अंग से लगने को तन और मन तरस रहे हैं ।
Best Hindi Shayari on All Topic बेस्ट हिंदी शायरी ऑन ऑल टॉपिक
( 120)
 फूल जो तुम ने दिया वह प्रेम की पहचान है
 फूल की तुम जान हो वह फूल मेरी जान है ।
( 121 )
दिल तोड़ना इन हसीनों को खूब आता है
नजर का तीर भी  दिल पर चलना खूब आता है ।
( 122 )
इस गुलाब की पंखुड़ियों का यही सलोना गीत
 धूप रूप के ढल जाने पर कौन है किस का मीत।
 ( 123 )
प्रेम के बाग लगा कर तुम ये कैसे फूल खिलाती हो
पुण्य कि नाव डूबा कर क्यों पाप की नाव चलाती हो ।
( 124 )
रूप सिंधु की सुंदरी तेरी मिली न चाह
 मांगता रहूँ मैं फ्रीरू प्यारी प्यास न जाये ।
( 125 )
जिस भगवान ने तुम्हें सूरत दी है
उसी ने हमें भी मोहब्बत दी है ।
( 126)
 तुम उदार हो इस दुखिया पर इतनी दया दिखा देना
 प्रेम भुलाऊं कैसे तुम्हारा इतना मुझे बता देना।
 ( 127 )
रोते-रोते दिन कटता है तड़प तड़प कर रात
 भूल न पाता एक घड़ी भी प्यारी तेरी बात।
 ( 128)
 आजा जानी पिला दो पानी
कुएं से लोटा निकाल कर
हम आशिकों का फटा कलेजा
दुपट्टा छोड़ना संभाल कर।
( 129 )
लोग गैरों को करते हैं
हमने अपनों की आजमाई है
लोग कांटो को कहते हैं
 हमने फूलों से चोट खाई है।
 ( 130)
 क्या सुनाऊं तुझको दोस्त उजड़ी मोहब्बत की दास्तान
जल रहा हूं इस तरह मैं जैसे जलता है शमशान ।
 (131 )
दिल में वो खुशी बन कर आए
 अरमान सजा कर चले गये
दिल की हसरत दिल में रह गई
वो तूफान उठा कर चले गये।
 ( 132)
 चाहूं तो तुम को चाहूं देखूं तो तुम को देखूं
 ख्वाहिश यही है दिल में दिन रात तुम को देखूं।
 ( 133)
 फूल है गुलाब का सुगंध लेते जाइए
 सवाल है प्यार का जवाब देते जाइए।
 ( 134 )
गोरी तेरी आंखें काजल से तेज है
 दिल को घायल करती फूलों की सेज है ।
( 135 )
जैसी लिपट लता  वृक्ष से वैसे ही तुम लिपटो
बार-बार तुम झुमके नाचो मुझसे लिपटो चिपटो।
 ( 136 )
प्यार करने का होता सलीका नहीं
प्रेम को बस बदनाम करते हैं ये।
धैर्य भी चाहिए प्रेमियों के लिए
समय भी चाहिए जिंदगी के लिए ।
( 137 )
प्रेमी हूं मैं आपका कोई गैर नहीं हूं
हंसकर के प्यार कर लो मैं गैर नहीं हूं ।
( 138 )
जैसे फूलों में सुगंध है तन में जैसे प्यार
तुम मेरे मन में बसो वैसे ही मेरी जान।
 ( 139 )
अदाएं दिखाकर फिर मुस्कुराना
इजाजत नहीं है तो फिर और क्या है ।
( 140 )
एक दिन कह रही थी भंवरा से कली
होंठ झूठे किए हैं मेरे तूने छू चूम
कह रहा था भंवर सुन अरी बावली
मिस निष्कलूस मैं बनू ले तुझे चूम ।
( 141 )
ठानी थी दिल में अब न मिलेंगे किसी से हम
पर क्या करें की हो गये लाचार जी से हम।
 ( 142 )
फूल तो बहुत है मगर गुलाब सा नहीं
कलियां तो बहुत है मगर आप सी नहीं ।
( 143 )
कैसे कहूं की मिलती नहीं हो तुम
 हर रोज स्वप्न में तो मिलती रही हो तुम ।
( 144 )
घटा की तरह  जुल्फ को लहराईए ना
कोई चुम लेगा इधर आइए ना ।
( 145)
 नाराज हो प्रभु तो करें बंदना से खुश
 प्राण प्यारी रूठ जाये तो कैसे मनाए हम।
 ( 146 )
चला जा ऐ कबूतर की चाल
जो करते मोहब्बत तो देंगे जवाब ।
( 147)
 जैसे ओस गिरने से पत्ती कम नहीं होती
दूर रहने से मोहब्बत कम नहीं होती ।
 ( 148)
 आवत में हरसै नहीं नैनन नहीं  सनेह
तुलसी वहां न जाइए कंचन बरसे मेह ।
( 149 )
जा मांगता हूं तो देती नहीं जवाब मेरी बात का
जब देती तो खड़ा हो जाता है रोम रोम जज्बात का ।
( 150 )
कहती है सजन धीरे से डालो बालों में फूल गुलाब का
डाला ही था कि झड़ गया बालों से फूल गुलाब का।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here