true love shayari collection सच्चा लव शायरी कलेक्शन

0
25
true love shayari collection सच्चा लव शायरी कलेक्शन
true love shayari collection
true love shayari collection :- जो लोग सच्चा प्यार करते हैं वे लोग प्यार से संबंधित सच्ची बातें भी पसंद करते हैं । अगर सच्चे प्यार की बात शायरी के रूप में कहीं जाए तो बात ही क्या कहिए लोग सच्चे प्यार की बात को सिर्फ पसंद ही नहीं करते बल्कि दिल से पसंद करते हैं । तो यहां पर हम आप सबके लिए लेकर आए हैं सच्चा लव शायरी true love shayari collection जो आप को पढ़कर बेहद ही पसंद आएगा। क्योंकि इस लेख में जो भी शायरी आप पढ़ेंगे उसमें आप को प्यार की सच्चाई मिलेगी प्यार का मिठास मिलेगा और अगर प्यार का गम भी मिलेगा तो उसमें प्यार से संबंधित सच्चाई जरूर होगी । तो देर किस बात की है आइए शुरू करते हैं सच्चे लव शायरी का सिलसिला।
 सच्चा लव शायरी कलेक्शन  true love shayari collection

(1)

आके जरा देख जा पिया क्या मेरा हाल है
सांसे चल रही है मेरी बिना तेरे जीना मोहाल है।
(2)
खिलौना समझकर आपने मेरा दिल तोड़ डाला
 दिल के हर अरमानों को पैरों तले कुचल डाला।
( 3 )
सोचा था इस जिंदगी में शिकवा मिलेगी
ना जाना जख्म दिल का है शिकायत मिल गयी।
( 4 )
बाजारों में सम्मान मिलता है प्यार मिलता नहीं
हर दिल की अर्मा होती वफा किसी को मिलता नहीं।
( 5)
 तेरे प्यार का वादा करके मैं निभा ना सका
 बेवफा तुम निकले वफा का दिया जला ना सका।
( 6 )
ये मत पूछो कि उनकी याद में मेरा क्या हाल है
 एक वक्त गुजरती नहीं लगता है सौ साल है।
(7 )
एक पल याद ना करना तू बेवफा हो
 गैरों से प्यार करके मुझसे खफा हो।
( 8 )
रहे खुश सदा ये दुआ है मेरी
बेवफा ही नहीं दिलरुबा है मेरी।
true love shayari collection सच्चा लव शायरी कलेक्शन
(9)
खुश रहो पिया तु कभी उदास ना हो
जो तुम्हें रुलाए वह गम तुम्हारे पास ना हो।
( 10 )
हकीकत अब ये फसाना बन गया है
यह दिल अब तुम्हारा दीवाना बन गया है
 दर्द अब और मुझसे सहा नहीं जाता
 जब से ये दिल तुम्हारी नजरों का निशाना बन गया है।
(11)
 यार भुलाने की नहीं निभाते की बात करो
दूर जाने कि नहीं पास आने की बात करो।
(12 )
हमें देखने वाले यूं ही जलते रहेंगे
लिपट जाओ एक बार फिर से गले हमारे।
कोई फसला ना रहे बीच हमारे तुम्हारे।
( 13 )
हर सांस पर मेरी तेरा नाम लिखा है
 मेरे दिल की धड़कन पर तेरे प्यार लिखा है ।
(14 )
तू शिकारी है तो मैं शिकार हूं
तू देवी है दौलत की मैं प्यार का भिखारी हूं ।
(15 )
इस दिल में तेरे प्यार का अफसाना छिपा है
तुम्हें क्या पता इस दिल में कितना दर्द छुपा है ।
(16 )
लैंप वह बेकार है जिसमें उजाला नहीं है
 लड़का वो बेकार है जिसका कोई चाहने वाला नहीं है ।
(17 )
प्यार की दीवार दो विश्वास पर खड़ी होती है
कहीं काटो का हार तो कहीं फूलों की लड़ी होती है ।
(18 )
पुस्तक अच्छी लगती है जब उसका कवर हो
लड़कियां अच्छी लगती है जब उसका लवर हो।
true love shayari collection सच्चा लव शायरी कलेक्शन
(19 )
दिल है जब दीवाना तो क्या करेगा जमाना
उसने तो सीखा है मोहब्बत को आजमाना।
( 20 )
कैसी है दुनिया जहां मुस्कुराना गवारा है
अपनी खुशियों पर भी एक ना हमारा है।
(21 )
याद आती है तुम्हारा जब मैं तन्हा रहता हूं
तू ही तू दिल में होता है चाहे मैं जहां रहती हूं ।
(22 )
तुम जो सताए मुझे वो गम तुम्हारे पास ना हो
 मेरे हर खुशियां तुम्हारे हैं पिया तुम उदास ना हो।
( 23 )
क्या हासिल है इस जिंदगी से जो हम जिए जाते हैं
उनका नफरत का अंदाज बदलता नहीं हम प्यार किए जाते हैं ।
(24 )
पड़ेंगे जहां पांव तेरा दिल वहां बिछा दूंगी
मिले अगर प्यार ना तेरा आसमान को झुका दूंगी।
( 25)
 पाने के बाद तुम्हें दिलों में छुपा के रखूंगी
मन के मंदिर में तेरी मूरत बना के रखूंगी।
( 26 )
अमानत हो किसी और की मगर जागीर मेरी लगती हो
 नसीबा समझती हो किसी और को मगर तकदीर मेरी लगती हो।
(27 )
दिल जितना सभालूं उतना ही सताती हो
कहो तो बार-बार क्यों मुझको तड़पाती हो।
(28 )
प्यार तो प्यार है इसमें तकरार क्या
इश्क तो दिल की अमानत है इससे इनकार क्या।
( 29 )
तिनके तिनके जोड़कर बनाया दिल की ये महल
बेवफा वो निकल गई बिखर गया यह महल।
( 30 )
खुदा ने दी है जवानी तो कुछ ख्याल करो
जंग मार देगा इसमें कुछ तो इस्तेमाल करो।
( 31)
 कोई पटाका कोई फुलझड़ी कहते हैं
 मगर हम सब दीवाने तुझे जन्नत की परी करते हैं।
( 32 )
कोई फूल खिल के मुरझाता है तो कोई प्यार पे जान लुटाता है
 मैं  वो तेरा आशिक हूं जो दिल का प्यार लुटाता हूं।
( 33)
 दिन रात मेरे सामने तुम रहो मैं तुम्हें हरदम देखता रहूं
 खुदा भी तुम्हें क्या चीज बनाई जो प्यार तुझसे लुटाता रहूं ।
(34 )
आंसू नहीं बहाना जानम वो  है नयनों की मोती
मैं जरूर आऊंगा तेरे पास जलाकर रखना दिल की ज्योति ।
(35 )
आऊंगा जरूर पिया मुझ पर करना विश्वास
अगर थोड़ा लेट हो जाए तो ना होना उदास ।
(36 )
गुल खिले गुलशन खिले और खिले दो गुलदस्ते
हसीनों को बाय बाय और मशीनों को नमस्ते।
( 37 )
पढ़ती हो स्कूल में घूमती है बस बाजार
आंखें मार कर घायल ना करो अत्याचार ।
(38 )
रास्ते में पड़े शीशे को तोड़ मत जाइए
मैं खड़े तेरे इंतजार में मुझे छोड़ मत जाइए
(39 )
किसी को रहने के लिए खुदा भेजा न इस जमाने में
प्यार रखने का मजा नहीं मजा तो है लुटाने में।
(40 )
दौलत के पीछे दुनिया खुद लुट जाती है
 मोहब्बत करने वाले उसके हाथों से छूट जाती है।
( 41 )
कहां पर जाती है सज धज के कहीं पर प्यार है तेरा
तुम्हें पाने के लिए बरसों से इंतजार है मेरा।
(42 )
इशारा करती हो मुझको बुलाती किसी और को तुम
दिल तोड़ा किसी और ने इल्जाम लगाती मुझको तुम।
(43 )
जवानी आई है बहुत इतरा कर चलती हो
अंगड़ाई लेती हो बहुत कमर लचकाकर चलती हो।
( 44 )
मैं चाहता तुम से नजर मिलाना तुम चुराना चाहती हो
मैं चेहरा देखना चाहता तुम छुपाना चाहती हो।
( 45 )
ओ प्रिया प्रिया तुमने भुला दिया
बेवफा या बेरहम क्या कहूं तुझे सनम।
( 46 )
बातों की बातों में आप बन बैठे दिलदार क्यों
अपना बना के पास बुला के फिर हमसे तकरार क्यों।
(47 )
चुमा तो हवाओं ने मुझ पर गिर बैठे
मैंने तो तुम्हें चाहा था मुझ पर ही बिगड़ बैठे।
(48 )
सिर्फ चाहा ही नहीं तुम को पाना चाहता हूं
दुख दर्द जिंदगी का बांटना साथ चाहता हूं ।
(49 )
अरे क्या कहिए इंसान से अरे क्या कहिए भगवान से
यह दोनों तो डरते हैं धनवान से ।
(50 )
दिल मेरा तुम्हारी अदाएं ले गई
दिल छीन लेने वाली निगाहें ले गई।

(51)

चलती हो हसीना जब उड़ती है धूल
तेरे सीने पर खिलती है दो फूल ।
(52 )
तुमको देख कर आज ये दिल धड़क ही जाएगा
 तेरे यौवन को देखकर ये दिल तरस ही जाएगा।
( 53 )
कभी तेरी जुल्फें जब उड़ती है हवाओं में
 तभी मेरा दिल भटकता है फिजाओं में ।
(54)
 कब तक संभालू दिल ये नादान को
हर बार जा अटकता है तेरी ही खयालों में ।
( 55 )
दिल के आईने में जब तस्वीर हमने सजा ली
फिर मुझको देखकर तुमने सूरत क्यों छिपा ली ।
(56)
 इस अदा से ना देखो कहीं मदहोश ना हो जाए
पानी में आग लगाकर दिलकश ना हो जाए।
( 57 )
अपने अंग अंग पर लिख लूंगी नीरज तेरा नाम
ईश्वर समझकर पूजा करूंगा सुबह और शाम ।
(58 )
पागल ना होना मेरे प्यार में दिल का हाल सुना देना
जब दिल ना लगेगा तो ये तस्वीर सीने में लगा देना।
( 59)
 तू इधर बेचैन हो तो मैं उधर बेचैन होती हूं
मैं रात भर रोती हूं तु रात भर सोते हो।
( 60 )
जिसे तुम एहसान समझती वह तेरा कर्ज था
जिसे मैं देने जा रहा हूं वो दिल का फर्ज था।
(61)
 अपनाने का वादा कर मजा लेकर ना भूलना
 झूठी मोहब्बत करके बेवफा ना बन जाना।
(62 )
बिजली बनकर ना गिरना फूल बनकर बरसना
 बेवफा ना बनना बफा निभाकर  जीना।
(63 )
हम लड़कियों की अनार का दाम कोई नहीं देता
हाथ से मसल कर रस कोई नहीं निकालता।
(64 )
दिल जब तैयार हो तो बिछावन नहीं खोजना
हसीनों को मनाकर उदास मत होना।
(65 )
गाल  चूमना कनखी मारना लड़कियों का काम है
 बोल गोरी तेरी गोल अनार का क्या दाम है।
(66 )
इश्क में आंसुओं के तार गले के हार होते हैं
उन्हें कब चैन होता है जो इश्क के बीमार होते हैं।
(67 )
माशूक है नई नखरा है पुराना
 हाय इस हुस्न पर मरता है जमाना।
(68 )
हर बार उठती है दिल में उमंग जब देखता हूं मैं
 जैसे सागर में उठती तरंग जब भी कंकर फेकता हूं मैं ।
(69 )
मैं बेवफा नहीं हूं आप मेरे मजबूरी नहीं समझे
प्यार करने में आप मेरे कमजोरी नहीं समझे ।
(70 )
सताओ इतना नहीं कि मैं मजबूर हो जाऊं
तुझे पाने की चाह में तुमसे दूर हो जाऊं ।
( 71 )
कितना भी तेरे प्यार को भुलाए प्यार कम नहीं होता
कितना भी गम को भुलाए ये दिल नम नहीं होता।
( 72 )
लगाते हैं तो ठीक से लगा यह तस्वीर सीने से
तेरे तस्वीर के सहारे मजा आता है जीने में ।
(73 )
गिरती है आंखों से आशु जब दिल टूट जाता है
 मजा आता है मनाने में जब दोस्त रुठ जाता है।
( 74 )
प्यार की निशानी को हमेशा याद रखना चाहिए
 दिल टूट गया तो क्या हमें याद आना चाहिए।
(75 )
नजरों से नजरें मिलती है जब प्यार होता है
दिल वही देता है जो आशिक दिलदार होता है।
( 76 )
फूल खिल जाती है किसी को खबर नहीं होती
अब तेरे बिन  एकपल मेरी गुजर नहीं होती।
(77 )
होठों पर मुस्कुराहट और नजर झुकाए बैठे हैं
आज भी महबूब मेरा दिल चुराए बैठे हैं।
(78 )
आप आए नजर और मेरी निगाहें कांप उठे
दिल खुश तो हो गया पर आंखों से आंसू निकल गये।
(79 )
वह मुझे बुलाते रहे हम रोते रहे
दिल के जख्मों को अपने आंसुओं से धोते रहें।
(80 )
सैर गुलशन में करो बहारों में क्या रखा है
 कत्ल नजरों से करो इशारों में क्या रखा है।
( 81 )
किसी से होकर जुदा कभी-कभी जीना सीखो
मोहब्बत ने दीया जो गम तो उसे सहना सीखो ।
(82 )
पुरानी तलवार है तो क्या धार कम नहीं होती है
 आप दूर है तो क्या मेरा प्यार कम नहीं होती है ।
(83 )
गम के आंसू छोड़कर आप मुस्कुराना सीखें
प्यार किए जब प्रिया से तो निभाना सीखें ।
(84 )
आंखों में प्यार दिलों में प्यार
 मैं तेरे प्यार में हूं बेकरार ।
(85 )
लगाकर छोड़ ना देना जो दिल मैं आग लगा है
जवानी कैसे छुपाए जब चुनरी में दाग लगा है ।
(86 )
मुझे अपना यार बनाकर मजा देखो प्यार का
अरे आजमा के देखो मुझ जैसे दिलदार को।
(87 )
कोई फिर नजर टकराई पर दिल की हुई रुसवाई थी
आंखों के खता की थी पर दिल ने सजा पाई थी।
( 88 )
दिल चाहता है कि सीने से लगा लूं
 इश्क कहता है कि दिलों में सजा लूँ।
(89 )
अब हमें किस से क्या वास्ता यह तो हुआ आपका
घायल करो या मरहम लगाओ अब यह काम आपका।
(90 )
तुम कहो तो तुम्हारा दिल ले सकती हूं
दिल के अंदर सीने में तेरा नाम लिख सकती हूं।
(91 )
फूल पर बैठे भंवरे तो माली क्या करें
अगर प्यार सच्चा हो तो दुनिया किसी को क्या करें।
(92 )
तेरे लिए मेरा दिल है तेरी याद है जहां
तड़पा कर दिल को दोस्त तुम छुपे हो कहां।
( 93 )
बर्बाद किया जिसने उनको हम याद किया करते हैं
आंसू आंखों में भर जाता जब नाम उनका लेते हैं।
( 94 )
जब गम में इश्क सताता तो क्या से क्या हो जाता है
जब चोट दिल पर लगती है तो चेहरा भी उदास हो जाता है।
(95 )
मेरी हालत पर भी तरस खाया ना आपने
चोट देकर भी मुस्कुराता रहा सामने ।
(96 )
दिल देकर फरियाद करते हैं
दिल जिगर दोनो आपको याद करते हैं।
( 97 )
पीता हूं इसलिए कि मेरा गम दूर हो जाए
बर्बाद हो गए तो क्या मेरा दिल टूट ना जाए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here